प्रादेशिक
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

बिना मुंडेर के कुएं में गिरी स्कूल वैन, 3 छात्रों की मौत

शाजापुर द्य स्वदेश समाचारग्राम रिछोदा के निजी स्कूल के.ए. एकेडमी प्रबंधन की लापरवाही और चालक की अनदेखी के चलते दो दर्जन से अधिक बच्चों से भरी वैन बिना मुंडेर के कुएं में जा गिरी। इस घटना में तीन मासूमों की मौके पर ही मौत हो गई। बाकी बच्चों को ग्रामीणों की मदद से सुरक्षित बाहर निकाला गया।शाजापुर जिला मुख्यालय से लगभग 25 किमी दूर ग्राम रिछोदा के.ए. एकेडमी की वैन शुक्रवार दोपहर लगभग 2 बजे स्कूल परिसर में ही बने बिना मुंडेर के कुएं में जा गिरी। वैन में करीब 22 से अधिक बच्चे सवार थे, जिनकी उम्र करीब 5 से 10 वर्ष

15 Min ago
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

आदिवासियों को हंसिया व हथौड़ा ही थमाना चाहती है कांग्रेस-शिवराज

झाबुआ द्य स्वदेश समाचारहमारी सरकार ने आदिवासी और गरीब भांजे-भांजियों को स्कूल जाने के लिए साइकिलें दीं। बेटे, बेटियां पढ़ें, इसके लिए स्कूल- कॉलेज खोले और उनके लिए किताबें दीं। अच्छे नंबर लाने वाले बच्चों को लैपटॉप दिया। हजारों बच्चों के होस्टल और कमरों का किराया दिया। लेकिन कांग्रेस की बेईमान सरकार ने गरीब बच्चों की सारी योजनाएं बंद कर दीं। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गरीबों को छलने का पाप किया है। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने शुक्रवार को झाबुआ के कालापीपल में पार्टी प्रत्याशी श्री भानू भू

16 Min ago
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

15 सालों में भाजपा सरकार के प्रयासों से 'मैग्नीफिसेंटÓ बना एमपी- राकेशसिंह

भोपाल द्य स्वदेश समाचारमैग्नीफिसेंट का शाब्दिक अर्थ होता है शानदार, अत्यधिक प्रभावशाली, आकर्षक, भव्य। इस समिट का नामकरण करके मुख्यमंत्री कमल नाथ ने भी यह मान लिया है कि भारतीय जनता पार्टी के 15 सालों के शासनकाल में ही मध्यप्रदेश बीमारू से विकसित प्रदेश बना, जो कि एक तथ्य है। इस तथ्य की पुष्टि समिट में आए निवेशकों ने भी अपने भाषण में की है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेशसिंह ने इंदौर में आयोजित की जा रही 'मैग्नीफिसेंट एमपीÓ समिट के शुभारंभ पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए क

17 Min ago
देश
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

मोदी सरकार के राज में नक्सलियों की टूटी कमर-शाह

नागपुर द्य 18 अक्टूबर (वा)भाजपा अध्यक्ष एवं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दावा किया है कि केंद्र में नरेंद्र मोदी नीत सरकार ने सत्ता में आने के बाद नक्सलियों की कमर तोड़ दी है।श्री शाह ने शुक्रवार को महाराष्ट्र में नक्सल प्रभावित गढ़चिरौली जिले के अहेरी में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि नक्सली विकास के विरोधी हैं, लेकिन मोदी सरकार ने पिछले पांच सालों में नक्सलियों पर अंकुश लगाया है। उन्होंने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी किए जाने के मुद्दे का उल्लेख करते हुए कहा कि पूर्ववर्ती का

10 Min ago
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

पीएमसी बैंक मामला - याचिका की सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इंकार

नई दिल्ली द्य उच्चतम न्यायालय ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-आपरेटिव (पीएमसी) बैंक के खाताधारकों को राशि निकालने की अनुमति संबंधी याचिका की सुनवाई से शुक्रवार को इंकार कर दिया। न्यायमूर्ति एनवी रमन, न्यायमूर्ति आर. सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति बीआर गवई की पीठ ने संकट से घिरे पीएमसी बैंक से नकदी निकालने पर लगी रोक हटाने की मांग कर रही अपील पर विचार करने से मना कर दिया। पीठ ने याचिकाकर्ता को उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाने की अनुमति दे दी। न्यायालय में गत बुधवार को मामले का विशेष उल्लेख किया गया था और न्यायालय ने

11 Min ago
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

विरोधी कुछ भी बोलें, बिहार में राजग अटूट - नीतीश कुमार

भागलपुर ठ्ठ 18 अक्टूबर (वा) बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने राज्य में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को अटूट बताया और कहा कि उनकी पार्टी गठबंधन के घटक दलों के साथ मिलकर ही आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी। श्री कुमार ने आज यहां हो रहे उपचुनाव के लिए राजग प्रत्याशी के पक्ष में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार में राजग का मजबूत गठबंधन है। यह अटूट है। विरोधी भले ही कुछ बोलें, जदयू वर्ष 2020 में होने वाला विधानसभा चुनाव भी भाजपा और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा

14 Min ago
विदेश
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

वैश्विक वृद्धि को गति देने के लिए मिलकर काम करें जी-20 देश

वाशिंगटन/नई दिल्ली ठ्ठ 18 अक्टूबर (वा) वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वैश्विक वृद्धि को गति देने के लिए जी-20 देशों को मिलकर काम करने और सुधारों पर जोर देने की अपील की है। श्रीमती सीतारमण ने गुरुवार को यहां जी-20 देशों के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंकों के गर्वनरों की बैठक में विश्व अर्थव्यवस्था को वर्तमान चुनौती और इसके संभावित समाधान पर अपने विचार रखे। उन्होंने कहा कि जी-20 को अगले दौर के सुधारों पर जोर देना चाहिए। उन्होंने वैश्विक मंदी की स्थिति में मिलकर काम करने की अपील करते हुए कहा कि उभरती हुई अर

9 Min ago
मुखपृष्ठ OCT. 18, 2019

ट्रम्प ने तुर्की पर 'विनाशकारी प्रतिबंधÓ की दी चेतावनी

वाशिंगटन ठ्ठ 17 अक्टूबर (शिन्हुआ) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि तुर्की के साथ प्रस्तावित उच्च स्तरीय वार्ता का कोई नतीजा नहीं निकलता है तो अंकारा को 'विनाशकारी प्रतिबंधोंÓ का सामना करना पड़ेगा। श्री ट्रम्प ने अमेरिका के दौरे पर आए इटली के राष्ट्रपति सर्जियो मटरेला के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैय्यप एर्दोगन के साथ गुरुवार को होने वाली उपराष्ट्रपति माइक पेंस की बैठक का जिक्र करते हुए कहा, मुझे लगता है कि उनकी एक सफल बैठक होगी। श्री ट

23 Hr 44 Min ago
मुखपृष्ठ OCT. 15, 2019

तुर्की का आक्रमण 'युद्ध अपराधÓ, अंतर्राष्ट्रीय समुदाय हस्तक्षेप करे - राजदूत डॉ. रियाद

नई दिल्ली ठ्ठ14 अक्टूबर (वा) सीरिया ने तुर्की द्वारा उसके उत्तर पूर्वी कुर्द बहुल क्षेत्र में की गई सैन्य कार्रवाई को 'युद्ध अपराधÓ करार दिया है और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का आह्वान किया है कि वह सीरिया की धरती पर तुर्की का सैन्य अतिक्रमण समाप्त कराने के लिए दबाव बनाये। सीरिया के राजदूत डॉ. रियाद अब्बास ने यहां आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में तुर्की के राष्ट्रपति रिसिप तैय्यब एर्दोगन पर आरोप लगाया कि वे अमेरिका के इशारे पर इस्लाम के नए खलीफा बनने की कोशिश कर रहे हैं और अमेरिका के समर्थन से तुर्की ने आईएस

4 Days 0 Hr ago
व्यापार समाचार
मुखपृष्ठ OCT. 19, 2019

चांदी में तेजडि़ए-मंदडि़ए के बीच खींचतान

पुष्य नक्षत्र की ग्राहकी का इंतजार, चांदी-सोना में त्योहारी मांग इन्दौर ठ्ठ व्यापार प्रतिनिधि स्थानीय सराफा बाजार में कीमती धातुओं में सोना-चांदी में करबा चौथ की ग्राहकी बाजार सहित बड़े शोरूमों पर अच्छी रही। वही दीपावली की ग्राहकी अब पुष्य नक्षत्र से जोर पकड़ेगी। चांदी में तेजी मंदी वालों के बीच खींचतान है। दीपावली त्योहार के पूर्व आभूषण निर्माताओं की सोना-चांदी में मांग रहने से भावों में सुधार रहा। तेजी के पीछे एक वजह रुपया भी कमजोर हो गया है और कामेक्स एक्सचेंज के भाव ऊपरी स्तर पर ही चल रहे हैं। सोना-चां

6 Min ago
सिनेमा

Custom Heading

Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipisicing elit, sed do eiusmod tempor incididunt ut labore et dolore magna aliqua.

भविष्य फल
संपादकीय
मजबूरी में 'मौनÓ तोड़ते मनमोहन...
19Oct

मजबूरी में 'मौनÓ तोड़ते मनमोहन...

देश के 10 वर्षों तक प्रधानमंत्री रहे वरिष्ठ अर्थशाी रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर व पूर्व वित्त मंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की लगातार (10 वर्षों) के कार्यकाल में जो एक जनसामान्य में पहचान बन गई थीं...वह यही थी कि वे देश के ऐसे पहले प्रधानमंत्री है जो मौन साधकर सिर्फ रिमोट कंट्रोल प्रधानमंत्री के रूप में अपनी नौकरी बजा रहे हैं...नौकरशाही से निकलकर राजनीतिक मैदान में उतरे डॉ. मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री के रूप में भी एक नौकरशाह जैसे ही अंदाज में लोगों ने देखा और पाया...तभी तो उनके अनेकों निर्णयों पर 10 जनपथ की छाप
धर्मधारा
समाज के बेहतर संचालन की कारक रही वर्ण व्यवस्था
19Oct

समाज के बेहतर संचालन की कारक रही वर्ण व्यवस्था

धर्मधाराशांति और समृद्धि के लिए किसी भी देश या समाज में समाज का भेद-भाव मुक्त होना बहुत जरूरी है। धर्म, जाति, रंग, भाषा, नस्ल आदि के आधार पर भेद-भाव न केवल अमानवीय है, बल्कि अनावश्यक संघर्ष और टकराव का कारण भी है। इसके चलते समाज के संसाधनों एवं शक्ति का अपव्यय होता है और मानवीय गरिमा को ठेस पहुंचती है। ज्यादातर देशों ने भेद-भाव मुक्ति को मान्यता दी है, फिर भी बहुत से देशों में अघोषित तौर पर भेद-भाव मौजूद हैं। कई देशों में तो घोषित तौर पर भी धर्म के आधार पर भेद हैं, वहां अपने से भिन्न धर्म वालों को दूसरे दर्
विशेष लेख
दुनिया में डॉलर के मुकाबले सोने का बढ़ता महत्व
19Oct

दुनिया में डॉलर के मुकाबले सोने का बढ़ता महत्व

जयंतीलाल भंडारीभारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा स्वर्ण उपभोक्ता देश है और अपनी लगभग पूरी स्वर्ण मांग आयात के जरिए पूरी करता है। ऐसे में सोने के आयात में कमी अर्थव्यवस्था के लिए लाभप्रद है। आर्थिक सुस्ती के वर्तमान दौर में सोने के आयात में कमी से व्यापार घाटे में भी कमी आएगी। निश्चित रूप से भारत जैसे विकासशील देश के लिए सोने में निवेश उत्पादक नहीं है। प्रतिवर्ष देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का करीब तीन फीसद सोने की खरीद के रूप में अनुत्पादक पूंजी में बदल रहा है।यकीनन वर्ष 2019 की शुरुआत से ही देश में सोने
प्रेरणादीप
गुरुदेव शांत साधक
19Oct

गुरुदेव शांत साधक

प्रेरणादीपरविन्द्रनाथ टैगोर विचारक ही नही, बल्कि शांत साधक थे। वे भयमुक्त थे। वे शांत स्वभाव के थे। वह काफी कम बात किया करते थे। कुछ लोग रविन्द्रनाथ टैगोर जी की निंदा करते थे। एक बार शरत् बाबू ने टैगोर से कहा, 'मुझे आपकी निंदा सुनी नहीं जाती। आप अपनी आधारहीन आलोचना का प्रतिकार करें। टैगोर ने शांत भाव से इस बात को सुना और कहा, तुम जानते हो मैं निंदक और आलोचकों के स्तर तक नहीं जा सकता। मेरा अपना स्तर है। उसको छोड़कर मैं आलोचकों के स्तर तक जाऊं तभी उसका प्रतिकार हो सकता है। में ऐसा कभी नहीं चाहूंगा।Ó अर्