प्रादेशिक
मुखपृष्ठ JAN. 23, 2021

भोपाल में खुलेगा विप्रो समूह का सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सेंटर

भोपाल ठ्ठ 22 जनवरी (ब्यूरो)मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि विप्रो के प्रमुख अजीम प्रेमजी उद्योग क्षेत्र के साथ ही समाजसेवा के क्षेत्र में अद्वितीय कार्य कर रहे हैं। उनके सामाजिक सेवाओं को एक उदाहरण और आदर्श माना जा सकता है। मध्यप्रदेश में अजीम प्रेमजी फाउंडेशन द्वारा विश्वविद्यालय स्थापना के लिए की गई पहल प्रशंसनीय है। इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार फाउंडेशन को हरसंभव सहयोग करेगी। इसके साथ ही भोपाल में विप्रो समूह द्वारा सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सेंटर की स्थापना के लिए दी गई सहमति मध्यप्रदेश के लिए महत्वपूर

3 Days 0 Hr ago
देश
मुखपृष्ठ JAN. 26, 2021

कारगिल में मनाया मंत्री पटेल ने राष्ट्रीय पर्यटन दिवस

नयी दिल्ली ठ्ठ 25 जनवरी (वा)स्थानीय युवाओं की प्रतिभा को सामने लाने तथा कारगिल को विश्व स्तरीय एडवेंचर स्पोर्ट्स गंतव्य स्थल के रूप में स्थापित करने के लिए जम्मू- कश्मीर के कारगिल में आज राष्ट्रीय पर्यटन दिवस मनाया गया। पर्यटन मंत्रालय ने आज बताया कि कारगिल में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्कीइंग एंड माउंटेनियरिंग (आईआईएसएम) की एक शाखा स्थापित की जाएगी। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटेल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। उन्होंने पर्यटन दिवस क

8 Min ago
विदेश
मुखपृष्ठ JAN. 25, 2021

कम्युनिस्ट पार्टी से निकाले गए प्रधानमंत्री केपी ओली

काठमांडू ठ्ठ नेपाल में राजनीतिक संकट गहराता जा रहा है और कम्युनिस्ट पार्टी के दो टुकड़ों में बंटने को लेकर अटकलों के बीच विरोधी गुट ने कार्यवाहक प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को पार्टी से बाहर किए जाने का ऐलान किया है। पुष्प कमल दहल उर्फ प्रचंड की अगुवाई वाले गुट की संट्रेल कमेटी की रविवार को हुई बैठक में ओली को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। विरोधी गुट के प्रवक्ता नारायण काजी श्रेष्ठ ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, उनकी सदस्यता रद्द कर दी गई है। पिछले साल 22 दिसंबर को ओली को कम्युनिस्ट पार्टी में सह अध

23 Hr 17 Min ago
मुखपृष्ठ JAN. 18, 2021

अमेरिका और भारत के 1800 से अधिक लोगों ने ऑनलाइन पहल में हिस्सा लिया

भारतीय रंगोली से होगी बाइडेन-हैरिस के शपथ समारोह की शुरुआतवाशिंगटन ठ्ठ 17 जनवरी (ए)अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन और नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के शपथ ग्रहण से जुड़े ऑनलाइन समारोह की शुरुआत परंपरागत भारतीय रंगोली के साथ होगी। रंगोली को तमिलनाडु में कोलम के नाम से जाना जाता है। घर के द्वार पर इसे बनाना शुभ माना जाता है। हैरिस की मां मूल रूप से तमिलनाडु की रहने वाली थीं। रंगोली के हजारों डिजाइन बनाने के लिए अमेरिका और भारत के 1,800 से अधिक लोगों ने इस ऑनलाइन पहल में हिस्सा लिया। इस पहल

7 Days 23 Hr ago
मुखपृष्ठ JAN. 10, 2021

ट्रम्प ने इस्तीफा नहीं दिया तो चलेगा महाभियोग- पेलोसी

वाशिंगटन ठ्ठ 7 जनवरी (वा)अमेरिकी संसद के निचले सदन 'हाउस ऑफ रेप्रेजेंटेटिव्सÓ की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने कहा है कि यदि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने तुरंत इस्तीफा नहीं दिया तो भीड़ को उकसाकर कैपिटल हिल (संसद भवन) में हंगामा करवाने के लिए उनके खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया चलाई जाएगी। सुश्री पेलोसी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा- सदन के सदस्यों को उम्मीद है कि राष्ट्रपति तुरंत इस्तीफा दे देंगे, लेकिन अगर वह ऐसा नहीं करते हैं, तो मैंने नियम समिति को कांग्रेसी जेमी रस्किन के 25वें संशोधन कानून और महाभियोग

15 Days 23 Hr ago
व्यापार समाचार
मुखपृष्ठ APR. 08, 2020

शेयर बाजार में तूफानी तेजी सेंसेक्स 2476 व निफ्टी 708 अंक उछला

मुंबई द्य वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस के संक्रमण के विस्तार में शिथिलता आने से बनी मजबूत निवेशधारणा के साथ ही घरेलू स्तर पर बैंकिंग, वित्त, एनर्जी, ऑटो और टेलीकॉम जैसे समूहों में हुई भारी लिवाली के बल पर शेयर बाजार गिरावट से उबरते हुए करीब 9 फीसदी की तूफानी तेजी लेकर उछला, जिससे बीएसई का सेंसेक्स 2476.26 अंक और एनएसई का निफ्टी 708.40 अंक बढऩे में सफल रहा। शेयर बाजार में रही करीब नौ फीसदी की तेजी के बल पर मंगलवार का दिन निवेशकों के लिए शुभ साबित हुआ और आज उनको करीब 7.95 लाख करोड़ रुपए की कमाई हुई। बीएसई का

293 Days 0 Hr ago
सिनेमा
मुखपृष्ठ FEB. 05, 2020

किशोर कुमार सम्मान से वहीदा रहमान अलंकृत

भोपाल द्य मध्यप्रदेश की संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ मुम्बई में सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री वहीदा रहमान के निवास पर पहुंचीं और उन्हें मध्यप्रदेश शासन के राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान से अलंकृत किया। डॉ. साधौ ने वहीदाजी को सम्मान-स्वरूप 2 लाख रुपए, शॉल-श्रीफल और प्रशस्ति-पट्टिका सौंपी। इस अवसर पर प्रमुख सचिव पंकज राग भी उपस्थित थे। अभिनेत्री वहीदा रहमान ने राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान के लिए मध्यप्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश का विशिष्ट वन्य-जीवन और हरियाली उन्हें बहुत पसं

355 Days 23 Hr ago

Custom Heading

Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipisicing elit, sed do eiusmod tempor incididunt ut labore et dolore magna aliqua.

भविष्य फल
संपादकीय
सुधार के सूर्योदय से आलोकित 'गणतंत्रÓ...
26Jan

सुधार के सूर्योदय से आलोकित 'गणतंत्रÓ...

संपादक की कलम से...शक्तिसिंह परमारभारत 2022 में अपनी आजादी के 75 वर्ष पूर्ण कर रहा होगा..,जबकि गणतांंत्रिक व्यवस्था के 72 वर्ष पूर्ण होंगे...यह कालखंड किसी भी जीवित अर्थात् प्राणवान देश के लिए बहुत मायने रखता है...प्राणों से अभिप्राय जहां सहमति के स्वरों के बीच अकाट्य असहमति को भी लोकतांत्रिक व्यवस्था के अंतर्गत सुनने और उस पर विचार की गुंजाइश निरंतर बनी रहे...जहां पर ऐसा होता है, वहीं पर जीवित राष्ट्र की संकल्पना पूर्ण होती है...भारत ने सात, साढ़े सात दशकों के इस कालखंड में 'असहमतिÓ के स्वरों को भी ल
धर्मधारा
बच्चें के प्रति अभिभावकों का कमजोर होता दायित्व बोध
11Jan

बच्चें के प्रति अभिभावकों का कमजोर होता दायित्व बोध

धर्मधाराअ खबार में एक खबर पढ़कर मन बहुत व्यथित हुआ। 12 साल के एक बच्चे ने मोबाइल फोन में पबजी जैसे गेम से प्रेरित होकर स्वयं को फांसी लगा ली। बच्चों की मानसिकता को ये काल्पनिक दुनिया किस हद तक प्रभावित कर सकती है, उसका अंदाजा इस घटना से लगाया जा सकता है। बतौर पालक, क्या हमारा यह कर्तव्य नहीं कि बच्चे की गतिविधियों पर ध्यान दिया जाए? क्यों हम इन्हें वास्तविक और मनगढ़ंत दुनिया में अंतर नहीं सिखा पाते? इसमें कोई मतभेद नहीं है कि बच्चों का नई तकनीकों की ओर रुझान अत्यंत आवश्यक है, किंतु उससे भी महत्वपूर्ण ये है
विशेष लेख
गणतंत्र अर्थात् गण और तंत्र का विधायी संतुलन
26Jan

गणतंत्र अर्थात् गण और तंत्र का विधायी संतुलन

अरविंद पंडितग णतंत्र का अर्थ विधि सम्मत व्यवस्था है। गण और तंत्र दोनों का विधायी संतुलन ऐसी व्यवस्था का निर्माण करता है, जिसमें सभी का विकास अतंर्निहित होता है। भारत ने गणतांत्रिक व्यवस्था को 26 जनवरी 1950 को अंगीकार किया। भारत का संविधान हमारी सांस्कृतिक पहचान को भी प्रकट करता है। यद्यपि संविधान की आत्मा को कुरेदने के प्रयास कई बार किए गए। लगभग सौ से अधिक बार संविधान संशोधन इसी बात को दर्शाता है। संविधान निर्मात्री सभा ने यद्यपि संविधान का गठन इस रूप में किया गया था, जिसमें मानवीय आवश्यकताओं की पूर्ति सह
प्रेरणादीप
ज्ञान की गहराई
11Jan

ज्ञान की गहराई

प्रेरणादीपभा रतीय तत्तचिंतन के महान विचारक और अद्वैतवाद के प्रवर्तक आद्य शंकराचार्य एक बार अपने शिष्यों के साथ समुद्र के तट पर बैठे वार्तालाप कर रहे थे। उनके एक शिष्य ने ठकुरसुहाती की भाषा में शंकराचार्यजी से कहा- गुरुदेव! आपसे और बड़ा विद्वान इस धरा पर कोई न होगा। आप पूर्णज्ञानी हैं। शिष्य की अज्ञानपूर्ण वाणी को सुनकर आचार्य शंकर ने अपने दंड को जल में डुबोकर निकालते हुए कहा - वत्स! इस दंड को आप देख हे हैं न! यह पानी में पूरा डूबने के बाद भी अपने साथ कुछ ही बूंदें लेकर आ पाया है। ज्ञान तो अथाह है। कितना ही