सत्यनिष्ठा
   Date22-Sep-2022

dharmdhara
प्रेरणादीप
ए क कक्षा में उनके गणित के अध्यापक ने घर से हल कर के लाने के लिए कुछ सवाल दिए। एक लड़के ने सारे सवाल सही-सही कर लिए सिर्फ एक सवाल को हल करने में उसे एक मित्र की सहायता लेनी पड़ी। अगले ही दिन कक्षा मेें इसी लड़के के सब सवाल सही देखकर अध्यापक ने बड़ी प्रशंसा की और अपनी कलम इनाम में देने लगे। लेकिन यह क्या! लड़का फूट-फूटकर रोने लगा। मास्टर जी! इसमें से एक सवाल मैंने मित्र की सहायता से हल किया है। मैंने सारे सवाल हल कहां किए हैं? मैंने तो आपको धोखा दिया है, इसलिए मुझे इनाम नहीं दण्ड मिलना चाहिए। मास्टर साहब उसकी सच्चाई से बहुत खुश हुए। उन्होंने कहा-अब यह इनाम मैं तुम्हें तुम्हारी सत्यवादिया के लिए देता हूं। यही बालक आगे चलकर गांधीजी के राजनीतिक गुरु गोपालकृष्ण गोखले के नाम से संसार में प्रसिद्ध हुआ।