विहिप और बजरंग दल पर प्रतिबंध के समय दादा ने कई बड़े आंदोलन किए थे
   Date19-Sep-2022

fg6
उज्जैन द्य स्वदेश समाचार
उज्जैन ही नहीं बल्कि पूरे मध्यभारत प्रांत एवं देश के विभिन्न हिस्सों में काम कर चुके विश्व हिंदू परिषद के वरिष्ठ अधिकारी, संघ के वरिष्ठ स्वयंसेवक, लोकतंत्र सेनानी आज हमारे बीच नहीं रहे। यह बताते हुए बड़ा दुख हो रहा है कि उज्जैन नगर पर विशेष स्नेह एवं उनका मार्गदर्शन हमेशा विश्व हिंदू परिषद एवं बजरंग दल को पूर्व में मिलता रहा। साथ ही विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक सिंघल एवं पूर्व के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री आचार्य गिरीराज किशोर एवं बड़े अधिकारियों के साथ काम कर चुके, विहिप एवं राम मंदिर आंदोलन से जुड़े हमारे प्रेरणास्त्रोत एवं हमारे सम्माननीय दादा रमेशचंद्र शर्मा (पवित्र भोजनालय वाले) आज हमारे बीच नहीं रहे। शनिवार को 99 वर्ष की उम्र में उनका स्वर्गवास हो गया। रविवार को उनका शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया। यह बात पूर्व बजरंग दल एवं वर्तमान में भाजपा संस्कृ ति एवं कला प्रकोष्ठ के नगर जिला सहसंयोजक मंगेश श्रीवास्तव ने कहा कि, जब आज से पूर्व कांग्रेस शासनकाल में विश्व हिंदू परिषद एवं बजरंग दल पर प्रतिबंध गए लगाया गया तो दादा द्वारा एवं उनके मार्गदर्शन में कई बड़े आंदोलन किए गए।
एक दिवसीय उपवास रखा
मंगेश श्रीवास्तव ने वर्तमान विश्व हिंदू परिषद नगर जिला अध्यक्ष से भी यह मांग की है कि हमारे वरिष्ठ अधिकारियों का जब स्वर्गवास हो जाता है तो शहीद पार्क स्थित विश्व हिंदू परिषद कार्यालय में उनको श्रद्धांजलि देने हेतु उनकी शवयात्रा को कार्यालय पर लाना चाहिए ताकि युवा बजरंग दल, विहिप के नेताओं को भी प्रेरणा एवं उनके कार्यकाल की अनोखी यादे याद रहे एवं उनके संघर्षों को याद रखें। मंगेश श्रीवास्तव ने एक दिवसीय उपवास रखकर दादा रमेश शर्मा को श्रद्धासुमन अर्पित किए।