सिमी सरगना सहित चार आतंकियों को उम्रकैद
   Date17-Sep-2022

ed5
राष्ट्रीय जांच एजेंसी के विशेष न्यायालय ने सुनाई सजा
भोपाल द्य संवाददाता
मध्य प्रदेश के सेंधवा सीमा पर नौ साल पहले सिमी के आतंकियों और एटीएस के बीच हुई मुठभेड़ में गिर तार चार आतंकियों को लेकर भोपाल की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है। विशेष न्यायालय ने शुक्रवार को सिमी सरगना अबू फजल और इरफान नागौरी को 10-10 साल की सजा सुनाई है। जबकि दो आतंकी उमेर दण्डोती और मोहम्मद सादिक को तिहरे आजीवन कारावास का दंड दिया गया। इन्हें धारा-16 और 4/5 यूएपीए अधिनियम के तहत ट्रिपल उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। जबकि साक्ष्य के अभाव में 4 आरोपियों को दोषमुक्त कर दिया। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र की बार्डर पर स्थित सेंधवा के पास सिमी के आतंकियों और एटीएस के बीच 2013 में मुठभेड़ हुई थी। तभी इन आतंकियों को गिर तार किया गया था। यह फैसला एनआईए न्यायालय के विशेष न्यायाधीश रघुवीर प्रसाद पटेल ने सुनाया है। सजा के बाद पुलिस ने दोनों आतंकियों उमर और सादिक को न्यायालय से किया गिर तार। वहीं इमरान नागौरी और अबू फजल पहले से जेल में बंद हैं। दोनों आतंकियों की कड़ी सुरक्षा के बीच चिकित्सा परीक्षण के बाद केन्द्रीय जेल भेज दिया गया। शासन की ओर से पैरवी विशेष लोक अभियोजक राजेन्द्र उपाध्याय, निरेन्द्र शर्मा, विक्रम सिंह ने की।