70 साल बाद कल कूनो राष्ट्रीय उद्यान में पहुंचेंगे आठ चीते
   Date16-Sep-2022

dc6
चीतों को लेने भारत से नामीबिया पहुंचा विमान, इतिहास में दर्ज होगा श्योपुर का नाम
श्योपुर/ग्वालियर द्य स्वदेश समाचार
चीतों को भारत लाने की तैयारियां नामीबिया में अंतिम दौर में हैं। वहां से आठ अफ्रीकी चीतों को एक खास विमान से भारत लाया जाएगा। गुरुवार को इस विमान की तस्वीरें एयरलाइन कम्पनी ने ट्वीट कर शेयर की हैं। इस विमान में चीते की एक आकर्षक पेंटिंग बनाई गई है।
दुनिया के किसी भी देश में चीतों को शिफ्ट करने का काम एयरलाइन कम्पनी पहली बार करने जा रही है। ये क्षण विमान कम्पनी के लिए भी यादगार होने वाला है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने जन्मदिन 17 सितम्बर को खुद कूनो राष्ट्रीय उद्वान में बने बाड़े में चीतों को आजाद कर देश के पहले चीता प्रोजेक्ट का शुभारंभ करेंगे। इसके बाद सैलानियों को इस राष्ट्रीय उद्यान में चीते दौड़ते हुए दिखेंगे जो अपने आप में एक दुर्लभ नजारा होगा। लगभग 70 साल बाद कूनो राष्ट्रीय उद्यान में नामीबिया से आठ चीते पहुंचेंगे। जिनमें पांच मादा और तीन नर चीते होंगे। इस तरह से भारत से 1952 में विलुप्त घोषित हुए चीतों को सैलानी एक बार फिर से कूनो राष्ट्रीय उद्यान में देख सकेंगे। इसके बाद लगभग 750 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला कूनो राष्ट्रीय उद्यान सैलानियों के लिए एक परफेक्ट डेस्टिनेशन बन जाएगा। इससे इस क्षेत्र में पर्यटन उद्योग को भी बढ़ावा मिलेगा।