श्रीकृष्ण का नील वर्ण
   Date08-Aug-2022

rt4
प्रेरणादीप
'क् या तुम जानते हो श्रीकृष्ण का रंग नीला क्यों है?Ó विद्यार्थियों की परीक्षा लेने के लिए एक विद्वान संन्यासी ने प्रश्न किया। उनके इस प्रश्न को सुनकर सभी दंग रह गए। किसी को उत्तर सूझ नहीं रहा था। तभी एक विद्यार्थी खड़ा हुआ और बोला- 'स्वामी जी, श्रीकृष्ण का नीला रंग अनन्तता का प्रतीक है। संन्यासी ने पूछा- 'तुम यह कैसे कह सकते हो?Ó विद्यार्थी ने बड़े सुन्दर ढंग से अपने कथन की पुष्टि करते हुए समझाया- 'जिस प्रकार नीला आकाश और नीला सागर अनन्त है, उसी प्रकार श्रीकृष्ण की भी महिमा का अन्त नहीं है। अत: उनका भी रंग नीला है। इस प्रकार नीला रंग अनन्तता का प्रतीक है। विद्वान् संन्यासी ही नहीं, उपस्थित सभी लोग उत्तर सुनकर आनन्द से गदगद हो उठे। विद्वान् संन्यासी और कोई नहीं, स्वामी विवेकानन्द थे और उत्तर देने वाला बालक ही आग चलकर राजनीतिज्ञ और हिन्दू धर्म व्याख्याता के रूप में प्रसिद्ध हुआ, जिन्हें हम चक्रवर्ती राजगोपालाचारी के नाम से जानते हैं।