आजादी का अमृत महोत्सव देश की जनता को समर्पित
   Date15-Aug-2022

rf1
स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति मुर्मू का देश के नाम संबोधन
नई दिल्ली ठ्ठ विभाजन -विभीषिका स्मृति दिवस को लेकर विपक्ष द्वारा उठाये जा रहे सवालों के बीच राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज कहा कि इस स्मृति दिवस को मनाने का उद्देश्य सामाजिक सद्भाव, मानव सशक्तिकरण और एकता को बढ़ावा देना है।
श्रीमती मुर्मू ने रविवार शाम 75वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा आज 14 अगस्त के दिन को विभाजन-विभीषिका स्मृति-दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। इस स्मृति दिवस को मनाने का उद्देश्य सामाजिक सद्भाव, मानव सशक्तीकरण और एकता को बढ़ावा देना है। मोदी सरकार ने पिछले वर्ष 14 अगस्त को घोषणा की थी कि 1947 में विभाजन के दौरान भारतीयों के कष्टों और बलिदानों की राष्ट्र को याद दिलाने के लिए 14 अगस्त को सालाना 'विभजन विभिषिका स्मृति दिवसÓ या 'विभाजन भयावह स्मरण दिवसÓ के रूप में याद किया जाएगा। कांग्रेस ने इसका विरोध करते हुए आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर मौके का इस्तेमाल राजनीतिक लाभ के लिए करते हैं ।