इंदौर में 24 घंटे में 6 इंच, कई क्षेत्र जलमग्न
   Date11-Aug-2022

rt2
भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर :उज्जैन में क्षिप्रा, सोनकच्छ में कालीसिंध का रौद्र रूप
ठ्ठ बुधवार 10 अगस्त
मध्यप्रदेश में बारिश का दौर थम नहीं रहा है। भोपाल, जबलपुर, इन्दौर, उज्जैनह्य रतलाम, खरगोन, देवास, बड़वानी व अन्य क्षेत्रों में लगातार बारिश से कोहराम मचा हुआ है। बड़वानी में मकान ढह गया जिसमें ए महिला की मौत हो गई। देवास जिले के ग्राम बिसाखेड़ी में नदी की बाढ़ में घिरे दो लोगों ने पेड़ पर बैठकर जान बचाई। अंचल में कई स्थानों पर मंगलवार रात और बुधवार को तेज वर्षा से नदी-नाले उफान पर आ गए। पुल-पुलियाओं पर पानी होने से आवागमन अवरुद्ध रहा। घरों में पानी घुस गया। वहीं उज्जैन में शिप्रा उफान पर है। इंदौर में पिछले 24 घंटे में 6 इंच बारिश हुई। बारिश का क्रम अभी जारी है और यह आंकड़ा और बढ़ सकता है।
देवास जिले के गांव बिसाखेड़ी में नदी की बाढ़ में घिरे दो लोगों ने नौ घंटे तक पेड़ पर बैठकर जान बचाई। इन्हें बचाव अभियान दल ने निकाला। देवास जिले के सोनकच्छ में कालीसिंध उफान पर आने से बस स्टैंड में पानी भर गया। सांवेर के नागझिरी गांव में घरों में पानी भरने लोग परेशान रहे। हाटपीपल्या में भमोरी नदी में टैंकर पुलिया पर अटक गया। गुनेरा-गुनरी मार्ग, पीपरी-धाराजी और नेवरी में नेवरी- देवास मुख्य मार्ग अवरुद्ध रहे।
बाणगंगा क्षेत्र में महिला बही - देर रात बाणगंगा इलाके में महिला दुर्गा जायसवाल नाले में बह गई, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है।
इस दौरान नदी की बाढ़ का पानी खेत में आ गया। इससे वह चारों तरफ से बाढ़ से घिर गया तो जान बचाने के लिए वह पेड़ पर चढ़ गया। मोहन को बचाने गया भंवरसिंह भी बाढ़ में फंसा तो वह भी पेड़ पर चढ़ गया। ग्रामीणों की सूचना पर बचाव अभियान टीम पहुंची।