पद की गरिमा का हमेशा रखा ख्याल - कोविंद
   Date25-Jul-2022

sd3
नई दिल्ली द्य 24 जुलाई (वा)
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आखिरी बार देश को आखिरी बार संबोधित किया। मध्य रात्रि को उनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद छोडऩे की पूर्व संध्या पर देश के नाम अपने संबोधन में कहा कि 5 साल पहले मैं आपके चुने हुए जनप्रतिनिधियों के माध्यम से राष्ट्रपति चुना गया था। राष्ट्रपति के रूप में मेरा कार्यकाल आज समाप्त हो रहा है।
मैं आप सभी और आपके जन प्रतिनिधियों के प्रति हार्दिक आभार व्यक्त करना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों और हमारे आधुनिक राष्ट्र-निर्माताओं ने अपने कठिन परिश्रम और सेवा भावना के द्वारा न्याय, स्वतंत्रता, समता और बंधुता के आदर्शों को चरितार्थ किया था। हमें केवल उनके पदचिह्नों पर चलना है और आगे बढ़ते रहना है। पूर्व राष्ट्रपतियों की गौरवशाली परंपरा की चर्चा करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि अपने कार्यकाल के पांच वर्षों के दौरान, मैंने अपनी पूरी योग्यता से अपने दायित्वों का निर्वहन किया है। मैं डॉ. राजेंद्र प्रसाद, डॉ. एस. राधाकृष्णन और डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम जैसी महान विभूतियों का उत्तराधिकारी होने के नाते बहुत सचेत रहा हूं। इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत के राष्ट्रपति के रूप में कार्यभार छोडऩे से पहले राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने देश के नागरिकों से महात्मा गांधी की शिक्षाओं और आदर्शों का पालन करने और उनके जीवन से प्रेरणा लेने का भी आग्रह किया।