इंदौर ने किया कचरे से सीएनजी बनाने का चमत्कार-मुख्यमंत्री
   Date29-Jun-2022

cv4
इंदौर द्य 28 जून (स्वदेश समाचार)
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि इंदौर के आसपास के धार्मिक स्थल उज्जैन, महेश्वर, ओंकारेश्वर, मंडलेश्वर, मांडू, हनुमंत्या को जोडऩे का एक प्लान बनाया है। ताकि इंदौर आने वाले इंदौर के साथ-साथ देवदर्शन कर सके और पर्यटन की गतिविधियों में लोग भाग ले सकें। सरकार अकेली सब नहीं कर सकती, जब तक की समाज उनके साथ खड़े न हो जाए। पूरी दुनिया स्वच्छता कैसी होती है ,ये देखने इंदौर आती है।
उन्होंने कहा कि इंदौर के विकास के बारे में एक थिंक टैंक बने जिसमें राजनेताओं के अलावा इंदौर के प्रबुद्ध नागरिक भी सम्मिलित हो। कचरे से सीएनजी बनाने का चमत्कार इंदौर ने किया। शहर की 50 प्रतिशत स्ट्रीट लाइट को एलईडी में बदला जा चुका है। पीएम ने मंत्र दिया सेकुलर इकोनॉमी का। उस मंत्र को सार्थक करते हुए वैश्विक बाजार में कार्बन क्रेडिट की बिक्री करने वाला इंदौर एशिया का सबसे पहला शहर है। 2023 तक हमारा संकल्प है 700 करोड़ की लागत से मेट्रो रेल की एक लाइन इंदौर से शुरू करेंगे। ट्रैफिक में इंदौर देश में नंबर वन आए। इसके लिए 50 जंक्शन पर 45 करोड़ की लागत से इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम लागू किया जा रहा है। वे ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में प्रबुद्धजनों को संबोधित कर रहे थे।