राजगढ़ में मतदान केन्द्र लूटा, पुलिस ने छोड़ी आंसूगैस
   Date26-Jun-2022

dc1
मप्र पंचायत चुनाव : पहले चरण का मतदान संपन्न, कई स्थानों पर हिंसा, सरपंच के शुरुआती रुझान में भाजपा आगे
शनिवार द्य स्वदेश समाचार
मध्यप्रदेश में शनिवार को पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान संपन्न हुआ। राजगढ़ में मतदान केन्द्र लूटा, पुलिस ने आंसूगैस के गोले छोड़े। वहीं ग्वालियर-चंबल में हिंसा, मुरैना में गोली से मौत हो गई, जबकि देवास में होमगार्ड जवान की मौत की जानकारी है। मतदान के बाद गिनती का दौर जारी है। नतीजे भी आना शुरू हो गए हैं। उज्जैन जिले की बडऩगर जनपद की अकोदिया पंचायत से पहला नतीजा आया है। यहां भाजपा समर्थित मांगूबाई सरपंच चुनी गई हैं। मांगूबाई करोड़पति परिवार से हैं। इनका मूल पेशा खेती-किसानी है। ये केवल साक्षर हैं। कांग्रेस का भी खाता खुला है। सिंधिया के क्षेत्र की ग्राम पंचायत मोहरीराय से कांग्रेस समर्थित दिलीप छाकड़ सरपंच बने हैं।
उधर राजगढ़ विकासखंड में मतदान के दौरान दबंगों ने चार गांवों में माहौल बिगाड़ दिया। किसी मतदान केन्द्र पर पथराव हुआ तो किसी मतदान केन्द्र पर दबंगों के कारण अधिकारी गेट बंद कर कमरे में बैठे रहें, वहीं बावड़ीपुरा ग्राम पंचायत के मतदान केन्द्र 22 रामपुरिया पर सरपंच प्रत्याशी के समर्थकों ने बूथ कैप्चरिंग कर ली। इसके बाद कुछ गांवों में कलेक्टर और एसपी सहित भारी पुलिस बल की निगरानी में चुनाव दोबारा शुरू हुए। राजगढ़ विकासखंड के ग्राम पंचायत बावड़ीपुरा में करीब 15-20 लोग अचानक मतदान केन्द्र में पहुंचे तथा पीठासीन अधिकारी के साथ मारपीट की व चुनाव सामग्री लेकर वहां से भाग गए। पुलिस ने भीड़ को काबू करने के लिए आंसूगैस के गोले छोड़े। हंगामे के कारण रामपुरिया में मतदान सामग्री लूटने के कारण दोपहर दो बजे के बाद मतदान नहीं हुआ।