शिवसेना में बगावत : संकट में उद्धव ठाकरे सरकार
   Date22-Jun-2022

sx4
35 विधायकों सहित गुजरात पहुंचे एकनाथ शिंदे
नई दिल्ली द्य 21 जून (वा)
महाराष्ट्र में एक बार फिर सियासी संकट शुरू हो गया है। इस बार उद्धव सरकार पर खतरा मंडरा रहा है। सरकार के दिग्गज मंत्री एकनाथ शिंदे 35 विधायकों के साथ गुजरात के सूरत में एक होटल में पहुंच गए हैं। शिंदे के साथ 3 मंत्री और हैं। शिंदे के साथ शिवसेना के अलावा कुछ निर्दलीय विधायक भी हैं। महाराष्ट्र सरकार के मंत्री शिंदे ने अपना मोबाइल तक बंद कर लिया। उनके मुख्यमंत्री तक बात नहीं कर पा रहे। शिंदे का अगला कदम क्या होगा? इससे पहले महाराष्ट्र से दिल्ली तक हलचल तेज हो गई है। वहीं शिवसेना ने एकनाथ शिंदे को अपने विधायक दल के नेता पद से हटाने का फैसला किया है। सेवरी विधायक अजय चौधरी शिवसेना विधायक दल के नए नेता बनाए गए। शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने ट्वीट किया कि हम बाला साहेब के कट्टर शिवसैनिक हैं। बाला साहेब ने हमें हिन्दुत्व सिखाया है। हमने बाला साहेब के विचारों और आनंद दिघे साहेब की शिक्षाओं पर सत्ता के लिए कभी धोखा नहीं दिया है और न ही कभी धोखा देंगे। मुंबई में उठे सियासी तूफान के बीच दिल्ली में हलचल तेज हो चली। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडऩवीस मुंबई से दिल्ली रवाना हो गए हैं। इस बीच राकांपा चीफ शरद पवार सामने आए और उन्होंने कहा कि यह पहली बार नहीं है। महाराष्ट्र में सरकार गिराने की साजिश पहले भी 3 बार हो चुकी है। उन्होंने कहा कि उद्धव के नेतृत्व में सरकार चलती रहेगी।
31 महीने पहले महाराष्ट्र में जब उद्धव ठाकरे ने सरकार बनाई थी, तब शिवसेना-एनसीपी गठबंधन के पास 153 विधायक थे और भाजपा के पास 106 विधायक। विधानसभा 288 विधायकों की है। यानी सरकार के लिए 144 विधायक चाहिए।