जिनेवा व्यापार बैठक को सर्वसम्मति की राह दिखाई भारत ने - पीयूष गोयल
   Date17-Jun-2022

2
 
नई दिल्ली/जिनेवा 17 जून (वा) वाणिज्य, उद्योग एवं उपभोक्ता मामले और खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि विश्व व्यापार संगठन की शुक्रवार को सम्पन्न 12वीं मंत्रिस्तरीय बैठक में भारत 'अनुकूल परिणामÓ प्राप्त करने में सफल रहा है। उन्होंने कहा- भारत की नेतृत्वकारी भूमिका से जिनेवा में यह सम्मेलन विफलता, बिखराव और निराशा के बादलों को छांटकर आशा, उत्साह और सर्वसम्मति-आधारित परिणाम तक पहुंचने में कामयाब रहा।
जिनेवा वार्ता के शुक्रवार को समापन पर नई दिल्ली में वाणिज्य मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी विज्ञप्ति में जिनेवा में श्री गोयल के संवाददाता सम्मेलन के हवाले से कहा गया है कि गरीब किसानों और मछुआरों के हितों की अनदेखी करने की अमीर देशों की मुहिम के बावजूद भारत कई वर्षों के बाद विश्व व्यापार संगठन में एक अनुकूल परिणाम हासिल करने में सक्षम रहा। बयान में कहा गया है, भारत ने इस वैश्विक मंच पर गरीबों के कल्याण की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्राथमिकताओं को केंद्र में बनाए रखा और अपने सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यमों (एमएसएमई), किसानों और मछुआरों के लिए मजबूती से खड़ा रहा। श्री गोयल ने जिनेवा में कहा- आज जब हम भारत लौट रहे हैं तो कोई भी ऐसा मुद्दा नहीं है, जिस पर हमें चिंतित होना चाहिए, चाहे वह अनाज की सरकारी खरीद (एमएसपी) हो, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम हो या पीएम गरीब कल्याण योजना को पूरा करने के लिए अनाज के सरकारी भंडार की प्रासंगिकता को मजबूत करने का मुद्दा, वैक्सीन पर बौद्धिक संपदा अधिकार में छूट हो, ई-कॉमर्स स्थगन, कोविड का सामना करने में डब्ल्यूटीओ की भूमिका का विषय हो या मत्स्य पालन की प्रतिक्रिया। वाणिज्य मंत्री ने कहा- इसी तरह समुद्र में मछली पकडऩे पर कोई ऐसी शर्त नहीं लगी है, जिसके बारे में हमारे मछुआरे को चिंतित होना पड़े, जिससे भारत के पारंपरिक मछुआरों पर भविष्य में कोई प्रतिबंध लागू किया जा सके।