सहकारिता नीति पर की बात पॉलिसी का ड्राफ्ट भेेंट किया
   Date14-Jun-2022

fc3
मुख्यमंत्री ने दिल्ली में अमित शाह व अन्य मंत्रियों से मुलाकात की
नई दिल्ली/भोपाल (ब्यूरो)
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। मीडिया से चर्चा में उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश में हम नई सहकारिता नीति बना रहे हैं। नीति आयोग और विषय विशेषज्ञों के साथ हमने व्यापक पैमाने पर विचार-विमर्श किया है।
कैसे सहकारिता के माध्यम से लोगों की आय बढ़े, उनको संगठित करें। नए क्षेत्रों में सहकारिता के माध्यम से हम जाएं। इसके लिए हमने बहुत एग्रेसिव पॉलिसी बनाई है। इस पॉलिसी का ड्राफ्ट गृह एवं सहकारिता मंत्री शाह को भेंट किया है। इस पर चर्चा करके बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गृहमंत्री शाह को भोपाल में सहकारिता सम्मेलन में आने का न्योता भी दिया। इसी माह नई सहकारिता नीति जारी करेंगे।
नक्सलवाद के मुद्दे पर भी की चर्चा - इसके अलावा मध्यप्रदेश में नक्सल गतिविधियों के संबंध में चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि मप्र के तीन जिले बालाघाट, मंडला और डिंडौरी, ये तीनों नक्सल प्रभावित जिले हैं। नक्सलवाद को मप्र में सख्ती के साथ रोका है, लेकिन छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में दबाव बनता है तो मध्यप्रदेश में आने का प्रयास करते हैं।
पिछले दिनों मुठभेड़ हुई है और नक्सल मारे भी गए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस स्थिति की जानकारी गृहमंत्री शाह को दी है और उनसे कान्हा क्षेत्र में बालाघाट में सीआरपीएफ की और बटालियन लगाने की जरूरत है। इसके लिए अनुरोध किया कि सीआरपीएफ की बटालियन और लगाई जाए। नक्सल थाने और चौकियों की मजबूती के लिए भी सहायता मांगी है।
कुछ गड़बड़ नहीं किया तो राहुल को डर किस बात का - नेशनल हेराल्ड मामले में राहुल गांधी के खिलाफ ईडी की कार्रवाई को लेकर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उन्होंने कुछ गड़बड़ नहीं किया तो राहुल गांधी और कांग्रेस को डर किस बात का है। ईडी को सच बताएं। अब ये जो प्रैक्टिस करते हैं, कर्मकांड करते हैं, गड़बड़ करो और फिर जांच एजेंसियों पर दबाव बनाओ। जनता इसको ढंग से समझ चुकी है। सच यह है कि आपने गड़बड़ की, भ्रष्टाचार किया है और भ्रष्टाचार की जब जांच हो रही है तो आप दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हो। दबाव बनाने से काम नहीं चलेगा। सच बताओ और अगर कुछ नहीं किया है तो डर क्यों रहे हो।