नमाजी उपद्रवियों के घर चला बुलडोजर
   Date12-Jun-2022

dc1
योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, उत्तरप्रदेश के विभिन्न जिलों में 23७ उपद्रवी गिरफ्तार
लखनऊ/ सहारनपुर ठ्ठ 11 जून (ए)
जुमे की नमाज के बाद हुए बवाल में उत्तरप्रदेश पुलिस एक्शन में आ गई है। सहारनपुर में पुलिस ने उपद्रवियों पर शिकंजा कसा है। सहारनपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर ने शनिवार को बताया कि सभी उपद्रवियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मुकदमा कायम होगा। इस बीच हिंसा एवं उपद्रव फैलाने वाले आरोपियों की संपत्ति को बुलडोजर से ध्वस्त करने की कार्रवाई भी शुरू हो गई है। योगी सरकार ने कार्रवाई करते हुए हिंसा के सिलसिले में अब तक 237 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। पुलिस एवं स्थानीय प्रशासन ने बुलडोजर से कोतवाली देहात इलाके की राहत कालोनी निवासी मुजम्मिल पुत्र अस्मत और खाता खेड़ी गांव के रहने वाले अब्दुल वाकर पुत्र विलाल के मकान को बुलडोजर से ध्वस्त कर दिया।
अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कु मार ने बताया, इस संबंध में राज्य में 237 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें प्रयागराज में 68, हाथरस में 50, सहारनपुर में 48, आंबेडकरनगर में 28, मुरादाबाद में 25 और फिरोजाबाद में आठ लोग शामिल हैं। इस बीच, हिंसा करने वालों को परोक्ष चेतावनी देते हुए, उप्र के मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कु मार ने शनिवार को एक ट्विट में कहा, उपद्रवी याद रखें,हर शुक्रवार के बाद एक शनिवार जरूर आता है। कुमार ने अपने ट्विट के साथ एक इमारत को ध्वस्त करते हुए एक बुलडोजर की तस्वीर भी ट्विट की। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा, विगत दिनों प्रदेश के विभिन्न शहरों में माहौल बिगाडऩे के लिए हुए अराजक प्रयासों में शामिल समाज विरोधी तत्वों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई होगी। ऐसे असामाजिक लोगों के लिए सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं है। यह ध्यान रखें कि किसी भी निर्दोष का उत्पीडऩ न हो, लेकिन दोषी एक भी न बचे। गौरतलब है कि उत्तरप्रदेश के प्रयागराज और सहारनपुर समेत कई जिलों में पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ भाजपा की निलंबित नेता नुपुर शर्मा की कथित आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर कल जुमे की नमाज के बाद लोगों ने नारेबाजी और पथराव किया था। पुलिस के मुताबिक सहारनपुर की जामा मस्जिद और देवबंद की रसीदिया मस्जिद में अपनी जेबों से पोस्टर, बैनर, पंपलेट निकालकर हवा में लहराए और माहौल में उत्तेजना पैदा करने की कोशिश की। इस दौरान जमकर नारेबाजी की। पूरे जिले में पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से हाई अलर्ट पर था। उन्होंने बताया कि प्रशासन अभी भी इस मामले में सतर्कता बरत रहा है। पुलिस की गश्त जारी है। उपद्रवियों पर नजर रखी जा रही है। खुफिया विभाग से भी इस दिशा में सक्रिय रहने के निर्देश गए है। फिलहाल जिले की स्थिति शनिवार को स्थिति नियंत्रण में, शातिपूर्ण एवं सामान्य है।