इंदौर में प्री-मानसून की दस्तक, हुई बारिश
   Date12-Jun-2022


dc5
शनिवार ठ्ठ मध्यप्रदेश में गर्मी के बीच कई इलाकों में राहत की बारिश हुई है। लंबे इंतजार के बाद इंदौर और उज्जैन में भी प्री-मानसून की बारिश हुई। इससे लोगों को राहत तो मिली ही। साथ ही मौसम भी सुहाना हो गया। भोपाल में भी बारिश हुई। इसके अलावा धार, विदिशा, खरगोन, सीहोर, सागर और बैतूल जिलों में भी तेज हवाओं के साथ बरसात हुई है।
उधर मानसून के चलते शनिवार को महाराष्ट्र के ठाणे, रायगढ़, पालघर, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग और मुंबई के अलग-अलग स्थानों पर 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश हुई है। इसके साथ ही मौसम विभाग ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून मध्य अरब सागर, कोंकण (मुंबई सहित), मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों और कर्नाटक के कई जगहों समेत में आगे की ओर बढ़ गया है।
राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 29.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने दिन में तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश की संभावना जताई है।
मध्यप्रदेश में कई स्थनों पर हल्की वर्षा
भोपाल। मध्यप्रदेश के पश्चिमी हिस्से में आने वाले बुरहानपुर, ग्वालियर, विदिशा, खरगोन, बैतूल, शिवपुरी, नर्मदापुरम, शाजापुर, रायसेन, अशोकनगर, बड़वानी, राजगढ़, भोपाल एवं खंडवा के अलावा पूर्वी मध्यप्रदेश में आने वाले छतरपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, अनूपपुर और जबलपुर जिले में बीते चौबीस घंटों के दौरान हल्की वर्षा दर्ज हुई है। भोपाल मौसम विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों ने बुलेटिन के माध्यम से बताया है कि अगले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश के उज्जैन, इंदौर, नर्मदापुरम, भोपाल, रीवा, सागर एवं जबलपुर संभागों के जिलों में कहीं-कहीं गरज चमक की स्थिति के साथ हल्की वर्षा हो सकती है। इसी तरह राज्य के अनूपपुर, अशोक नगर एवं ग्वालियर में भी कहीं-कहीं गरज चमक के साथ हल्की वर्षा होने की संभावना है। उज्जैन, इंदौर, नर्मदापुरम, भोपाल, रीवा, सागर एवं जबलपुर संभाग के जिलों में हवा की गति 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा की दर से चल सकती है। यह स्थिति अल्पकालिक रहने की संभावना है। वहीं अनूपपुर, अशोक नगर तथा ग्वालियर में भी ऐसी स्थिति बन सकती है। वैज्ञानिकों की माने तो अगले 13 जून से लेकर 14 जून तक मौसम में विशेष परिवर्तन के आसार नहीं है। फिलहाल मौसम का रुख वर्तमान स्थिति के अनुरूप रहने के आसार हैं।