मूर्तियों का हुआ अन्नाधिवास
   Date08-May-2022

ws3
खेड़ीघाट माँ राजराजेश्वरी प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव के तृतीय दिवस
सनावद ठ्ठ (स्वदेश समाचार)
खेड़ीघाट माँ राजराजेश्वरी प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव के तृतीय दिवस आवाहित देवताओं का पूजन हुआ। साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुरेश सोनी एवं डॉ. हेडगेवार समिति के अध्यक्ष ईश्वरदास हिंदुजा, सचिव राकेश कुमार यादव, वरिष्ठ प्रचारक गोरेलालजी, प्रांत प्रचारक बलिराम पटेल, उत्सव समिति के सदस्य कमलेश शर्मा, कैलाश आंवले, राजेन्द्र साद, उदय चौहान आदि के द्वारा देवताओं का आन्नाधिवास स्नान, प्रासाद शिखर स्नान एवं शय्याधिवास हुआ। यह विधान काशी के प्रसिद्ध वैदिकाचार्य पूज्य लक्ष्मीकांत दीक्षित एवं उनके शिष्यों के मार्गदर्शन में सम्पन्न हुआ। आज के दिन अन्नाधिवास स्नान में चमत्कार देखने को मिला। इस विधान में देवताओं का अन्न स्नान चावल के द्वारा किया जाता है। जब देवताओं का अन्नाधिवास चल रहा था, देवताओं का स्नान पूर्ण भी नहीं हुआ था और चावल समाप्त हो गए, उसी समय नरसिंहपुर जिला निवासी राजेन्द्र रघुवंशी का अनायास आगमन हुआ, जो कि ओंकारेश्वर दर्शन हेतु जा रहे थे, वे महोत्सव विधान की आवाज सुनकर यहां आए। उन्होंने बताया कि वे स्वयं एक चावल मिल के मालिक हैं एवं अपने साथ चावल लेकर आए हैं। उनके पास उतने ही चावल थे कि जितने में अन्न स्नान सम्पन्न हो सके। यह चमत्कार देखकर माँ के जयकारों से पूरा परिसर गूंज उठा एवं उपस्थित जनसमूह में हर्ष छा गया।
इंदौर एवं आसपास के क्षेत्रों से बड़ी संख्या में दर्शनार्थी पधार रहे हैं। महोत्सव के चतुर्थ एवं अंतिम दिवस के कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए समिति के सचिव राकेश कुमार यादव ने बताया कि रविवार 8 मई 2022 को देवता प्रबोधन, शिखर प्रतिष्ठा, प्राण-प्रतिष्ठा, महापूजा, पूर्णाहुति, महानैवेद्य एवं महाप्रसाद वितरण कार्यक्रम सम्पन्न होगा, जिसमें अधिक से अधिक संख्या में पधारकर धर्मलाभ लेने की अपील की है।