मील का पत्थर साबित होगी आत्मनिर्भर मप्र की दिशा में स्टार्टअप पॉलिसी
   Date10-May-2022

tg3
इंदौर द्य 9 मई (स्वदेश समाचार)
सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने कहा कि आगामी 13 मई को इंदौर में स्टार्टअप की नई पॉलिसी लांच की जाएगी। यह पॉलिसी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से लांच करेंगे। इस अवसर पर इंदौर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विशेष रूप से मौजूद रहेंगे। श्री सकलेचा ने कहा कि स्टार्टअप की नई पॉलिसी आत्मनिर्भर भारत तथा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की दिशा में बड़ा कदम साबित होगी। इस पॉलिसी में स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिए अनेक प्रावधान किए गए हैं। यह पॉलिसी स्टार्टअप के प्रतिनिधियों के सुझावों के आधार पर तैयार की गई है।
श्री सकलेचा आज यहां ब्रिलियंट कन्वेशन सेंटर में आयोजित स्टार्टअप के कर्टन रेजर कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस कार्यक्रम में स्टार्टअप के संचालकों और निवेशकों के मध्य आपसी समन्वय स्थापित कराया गया। कार्यक्रम में सांसद शंकर लालवानी, सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग के आयुक्त पी.नरहरि, कलेक्टर मनीष सिंह, डॉ. निशांत खरे, सावन लड्डा विशेष रूप से मौजूद थे। मंत्री श्री सकलेचा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिए अनुकूल वातावरण उपलब्ध कराया जा रहा है। हम स्टार्टअप में भी प्रदेश-देश में अव्वल रहें। इंदौर में बड़ी संख्या में निवेशक हैं। यहां स्टार्टअप और इसमें निवेश की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिए सभी आवश्यक संसाधन उपलब्ध हैं। यहां सभी तरह की क्षमता एवं संसाधन हैं। जोखिम लेने की ताकत भी है। जरूरत बस इन्हें अवसर देने एवं शुरुआत करने की है। स्टार्टअप पॉलिसी एक नई शुरुआत है।
स्टार्टअप में अग्रणी इंदौर-कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद शंकर लालवानी ने कहा कि स्टार्टअप के क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संकल्पों को साकार रूप देने के लिए इंदौर में पुरजोर प्रयास किए जा रहे है। अल्प समय में ही स्टार्टअप के सुझावों को आधार बनाकर नई स्टार्टअप पॉलिसी तैयार की गई है। पॉलिसी को अमली रूप देने के प्रयास भी शुरू कर दिए गए हैं। स्टार्टअप में हम अग्रणी भूमिका निभाने में आगे बढ़ रहे हैं।
28 निवेशकों ने दिखाई रुचि-कार्यक्रम के दौरान स्टार्टअप के संचालकों तथा निवेशकों के मध्य समन्वय स्थापित कराया गया। स्टार्टअप से चर्चा के दौरान अनेक निवेशकों ने निवेश करने की रुचि प्रदर्शित की। कार्यक्रम में मुख्य रूप से 9 स्टार्टअप कंपनियों में निवेश के लिए 28 निवेशकों ने अपनी रुचि जाहिर की। कार्यक्रम में 9 स्टार्टअप के प्रतिनिधियों ने अपने इनोवेशन, इनोवेटिव की जानकारी दी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा है कि इंदौर में 26 जनवरी को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति में पहला कार्यक्रम हुआ था। इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में स्टार्टअप के प्रतिनिधि मौजूद थे। इसके बाद उनके सुझावो के आधार पर अल्प समय में राज्य शासन द्वारा नीति तैयार की गई है। उनकी जरूरतों एवं मांग का आंकलन किया गया। इसके आधार पर उन्हें हर तरह की मदद एवं सुविधाएं देने का निर्णय लिया गया है। नई पॉलिसी से स्टार्टअप को बड़ी मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि 13 मई को होने वाला कार्यक्रम स्टार्टअप के लिए बड़ा अवसर है।