जीवन बचाने की संजीवनी सिद्ध हुई हैं संजीवनी 108 एम्बुलेंस - शिवराज
   Date30-Apr-2022

fg4
भोपाल द्य 29 अप्रैल (वा)
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि संजीवनी 108 एम्बुलेंस वास्तव में संजीवनी की तरह कार्य करती है। बीमार, घायल या दुर्घटनाग्रस्त को यदि समय पर अस्पताल पहुंचाकर इलाज मिल जाए, तो उसका जीवन बचाया जा सकता है।
श्री चौहान आज यहां लाल परेड ग्राउंड में आपातकालीन एम्बुलेंस सेवाओं के विस्तार के लिए एकीकृत रेफरल ट्रांसपोर्ट प्रणाली में 108 संजीवनी एम्बुलेंस और जननी एक्सप्रेस के लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि संजीवनी 108 एम्बुलेंस लोगों का जीवन बचाकर अपने संजीवनी नाम को चरितार्थ कर रही है। आज नवीन एम्बुलेंस वाहनों के संचालन का लोकार्पण कार्यक्रम वास्तव में लोगों की जिंदगी बचाने का अभियान है।
मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्ज्वलित कर इस कार्यक्रम का शुभारंभ किया। श्री चौहान ने सिंगल क्लिक से 'एमपी 108 संजीवनीÓ एप भी लांच किया। कार्यक्रम में एम्बुलेंस सेवा पर केंद्रित लघु फि़ल्म का प्रदर्शन किया गया। श्री चौहान ने 2052 एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर विभिन्न जिलों के लिए रवाना किया और एम्बुलेंस चालक राम पांडे, शिवम कुशवाह तथा सचिन अग्रवाल को एम्बुलेंस की चाबी सौंपी। श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश के 38 जिला चिकित्सालयों में सीटी स्केन मशीनों ने कार्य करना शुरू कर दिया है। प्रदेश में चिकित्सकों की नियुक्ति का अभियान जारी है। हाल ही में 374 चिकित्सकों को नियुक्त किया गया है। उन्होंने चिकित्सकों से ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना में राज्य सरकार द्वारा विद्यार्थियों को मेडिकल की पढ़ाई के लिए आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है। इन विद्यार्थियों को ग्रामीण क्षेत्र में तीन साल तक सेवाएं देना होंगी।