डबल इंजन सरकार आने से पूर्वोत्तर क्षेत्रों का विकास तीव्र हुआ- मोदी
   Date29-Apr-2022

yh1
डिब्रूगढ़ ठ्ठ 28 अप्रैल (वा)
पूर्वोत्तर क्षेत्र से अफस्पा को पूरी तरह से हटाने के प्रयास जारी हैं। दिफू में शांति, एकता और विकास रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अफस्पा को क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों से वापस लिया जा सकता है, क्योंकि पिछले आठ वर्षों में कानून और व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है।क्षेत्र में हिंसा में 75 प्रतिशत की कमी के साथ कानून और व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है, कानूनों को लागू करने से बदलाव हुए हैं। अफस्पा को पहले त्रिपुरा और फिर मेघालय में रद्द कर दिया गया था। डबल इंजन सरकार आने से पूर्वोत्तर क्षेत्रों का विकास तीव्र हुआ।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के दिफू में एक रैली को संबोधित किया। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्बी आंगलोंग में मांजा पशु चिकित्सा महाविद्यालय, वेस्ट कार्बी आंगलोंग कृषि महाविद्यालय, अम्पानी वेस्ट कार्बी आंगलोंग गवर्नमेंट कॉलेज सहित कई योजनाओं की आधारशिला रखी। मोदी ने कहा कि पिछले तीन दशकों में असम में पिछली सरकारों ने इसे बार-बार बढ़ाया था, क्योंकि कानून व्यवस्था की स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ था। पिछले आठ वर्षों में हालात पर नियंत्रण के कारण राज्य के अधिकांश हिस्सों से अफस्पा को हटा दिया गया है।
हम इसे शेष हिस्सों से भी वापस लेने की कोशिश कर रहे हैं। अधिनियम नागालैंड, असम और मणिपुर के कुछ क्षेत्रों में लागू है।
केंद्र के बाहर एक पट्टिका का अनावरण
मोदी ने केंद्र के बाहर एक पट्टिका का अनावरण भी किया। इस दौरान असम के राज्यपाल जगदीश मुखी, केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल और असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा उपस्थित थे। मोदी ने असम मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में स्थित केंद्र में सुविधाओं और उपकरणों का निरीक्षण किया। वह शाम को होने वाले एक अन्य कार्यक्रम में छह अन्य ऐसे केंद्रों का डिजिटल तरीके से उद्घाटन करेंगे। ये केंद्र बारपेटा, तेजपुर, जोरहाट, लखीमपुर, कोकराझार और दरांग में हैं।