मोदी ने मध्यप्रदेश की भील जनजाति की परम्परा 'हलमाÓ से देश को कराया परिचित - शिवराज
   Date25-Apr-2022

ty5
भोपाल द्य 24 अप्रैल (ब्यूरो)
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में मध्यप्रदेश की भील जनजाति की ऐतिहासिक परम्परा 'हलमाÓ से देश को परिचित कराया है। इससे हमारे भील जनजाति भाई-बहनों और सम्पूर्ण मध्यप्रदेश का मनोबल बढ़ा है।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार श्री चौहान ने श्री मोदी के मन की बात कार्यक्रम के बाद अपनी प्रतिक्रिया में यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बातÓ में मध्यप्रदेश की भील जनजाति की ऐतिहासिक परम्परा 'हलमाÓ का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि भील जनजाति द्वारा जल-संरक्षण का अप्रतिम संदेश देने वाली यह परंपरा प्रशंसनीय और अनुकरणीय है। यह सभी को प्रेरणा देगी। मध्यप्रदेश की भील जनजाति ने अपनी परम्परा 'हलमाÓ को जल संरक्षण के लिए इस्तेमाल किया। परम्परा में इस जनजाति के लोग पानी से जुड़ी समस्या के निराकरण के उपाय ढूंढने के लिए एकत्रित होकर एक-दूसरे से सुझाव लेते हैं। इस परम्परा की वजह से पानी का संकट कम हुआ है और भू-जल स्तर भी बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री श्री मोदी के अमूल्य शब्दों के लिए उनका हृदय से अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के एक जिले में 75 अमृत सरोवर के निर्माण के आह्वान को मध्यप्रदेश ने स्वीकार किया और अब हम 3800 अमृत सरोवर बना रहे हैं। स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर इन अमृत सरोवरों के पास ध्वजारोहण कर अपने संकल्प को पूरा करेंगे।