मुख्यमंत्री लाड़लियों के नाम पर देंगे बड़ी सौगात, वाटिकाओं का होगा नामांकरण
   Date01-Nov-2022

ed7
मुख्यमंत्री छात्रों को देंगे पहली किश्त की राशि
भोपाल ठ्ठ स्वदेश समाचार
मध्य प्रदेश के जिलों की कुछ चुनिंदा सड़कें अब लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत लाड़ली पथ के रूप में जानी जाएंगे। इन सड़कों पर लाड़ली का नाम दिया जाएगा। इसके साथ ही चुनिंदा वाटिकाओं का नामकरण भी लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत किया जाएगा। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राजधानी भोपाल समेत सभी जिलों में 2 नवंबर को लाड़ली लक्ष्मी पथ और वाटिका का नामकरण करेंगे। इस कार्यक्रम में लाड़लियों के अभिभावक और स्थानीय जन प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया है। सरकार के इस कदम को महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक सार्थक पहल माना जा रहा है।
प्रदेश में लड़कियों के सम्मान के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुबारा लाड़ली लक्ष्मी योजना की शुरुआत की है। मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस कार्यक्रम के तहत 2 नवंबर को एक बार फिर लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 कार्यक्रम की तैयारियां जारी है। इस कार्यक्रम से पहले भोपाल को बड़ी सौगात मिलेगी और राजधानी की लिंक रोड नंबर-दो का नामकरण होने जा रहा है। अब यह सड़क लाड़ली लक्ष्मी पथ के नाम से जानी जाएगी। दरअसल राज्य सरकार ने कुछ दिन पहले ही निर्णय लिया था कि प्रदेश के सभी जिला मुख्यालय की एक सड़क का नाम लाड़ली लक्ष्मी पथ रखा जाएगा। दरअसल पूरे प्रदेश में 42 लाख लाड़ली लक्ष्मी हैं। इनमें से करीब डेढ़ हजार बालिकाओं ने इस साल कालेज में प्रवेश लिया है। इन्हें कॉलेज की पढ़ाई पूरी होने पर फिर से 12 हजार रुपए से ज्यादा की राशि प्रदान की जाएगी। इस कार्यक्रम का आयोजन मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस कार्यक्रम के तहत किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में लाड़लियों के अभिभावक और स्थानीय जन प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा। वे वाटिका में पौधारोपण भी करेंगे। बताया जा रहा है कि इस कार्यक्रम में महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं को बुलाया जाएगा।
क्या है लाड़ली लक्ष्मी पथ
शिवराज सिंह चौहान लिंक रोड नंबर-2 का लाड़ली लक्ष्मी पथ के रूप में भारत माता चौराहे पर लोकार्पण करेंगे। शासन द्वारा सभी कलेक्टर को निर्देश दिए गए हैं कि लाड़ली लक्ष्मी पथ के रूप में जिस मार्ग का चयन किया जा रहा है, उस पथ का पूर्व में अन्य किसी और के नाम से नामकरण न हुआ हो, यह सुनिश्चित किया जाए। पथ के दोनों और पर्याप्त संख्या में साइनेज लगाए जाएं, जिन पर लाड़ली लक्ष्मी पथ का लोगो अंकित हो। प्रदेश के जिलों में आयोजित स्थापना दिवस कार्यक्रमों की लाइव स्ट्रीमिंग की जाएगी।
क्या है लाड़ली लक्ष्मी वाटिका
मध्यप्रदेश में बालिका सशक्तिकरण की दिशा में कई प्रयास किए जा रहे हैं। इसी दिशा में प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी वाटिका को थीम बेस्ड वाटिका के रूप में विकसित किया जा रहा है। इस वाटिका का उपयोग लाड़ली बालिकाओं के जन्मोत्सव अथवा उनसे संबंधित अन्य कार्यक्रमों में भी किया जा सकेगा। वाटिका में लाड़ली लक्ष्मी वाटिका अंकित करते हुए पट्टिका के साथ लाड़ली लक्ष्मी का लोगो भी लगाया जाएगा। इसकी शुरुआत भी मुख्यमंत्री दो नवंबर
को करेंगे।