हिंदी की मप्रमें नई यात्रा
   Date16-Oct-2022

rt1
'हिंदी में ज्ञान के प्रकाश' : हिंदी में मेडिकल की पढ़ाई शुरू करने वाला मप्र पहला राज्य
गृहमंत्री शाह और मुख्यमंत्री चौहान करेंगे पुस्तकों का विमोचन
देश का हृदय प्रदेश मध्यप्रदेश हिंदी के भाल पर सम्मान की बिन्दी लगाने वाली अभिनव पहल करने जा रहा है। सही मायने में हिंदी प्रदेश मध्यप्रदेश से हिंदी की यह नई यात्रा है। मध्यप्रदेश देश का ऐसा पहला राज्य बनने जा रहा है, जहां मेडिकल की पढ़ाई अब हिन्दी में भी हो सकेगी। राज्य सरकार द्वारा किये गये इस नवाचार का शुभारंभ एवं मेडिकल की हिन्दी पुस्तकों का विमोचन 16 अक्टूबर को लाल परेड ग्राउंड भोपाल में दोपहर 12 बजे केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह हिन्दी में ज्ञान के प्रकाश कार्यक्रम में करेंगे। अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान करेंगे। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सांरग विशिष्ट अतिथि होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशानुरूप मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में चिकित्सा पाठ्यक्रम को हिन्दी में तैयार करने का निर्णय लिया। इस निर्णय को अमल में लाने के लिए कार्ययोजना बना कर तीव्र गति से कार्य किया गया। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग के नेतृत्व में उच्च स्तरीय टास्क फोर्स समिति गठित की गई।
साथ ही विषय निर्धारण एवं सत्यापन कार्य के लिये समितियों का गठन किया गया। हिन्दी में पाठ्यक्रम तैयार करने एवं उसके सत्यापन कार्य के लिए चिकित्सा महाविद्यालय, भोपाल में हिन्दी प्रकोष्ठ वार रूम मंदार तैयार किया गया। पाठ्यक्रम निर्माण में चिकित्सा छात्रों एवं अनुभवी चिकित्सकों के सुझाव शामिल किए गए। ईडीआई जारी कर एमबीबीएस के विषयों के ऑथर और पब्लिशर का चिन्हांकन किया गया।