ग्वालियर में एयरपोर्ट टर्मिनल का भूमिपूजन
   Date16-Oct-2022

rt3
ग्वालियर। केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह 16 अक्टूबर को यहां नए एयरपोर्ट टर्मिनल का भूमिपूजन करेंगे। श्री सिंधिया ने बताया कि श्री शाह इसके साथ ही सिंधिया राजवंश के म्यूजियम में मराठा गैलरी का लोकार्पण करेंगे। लगभग 500 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे एयरपोर्ट टर्मिनल में आधुनिकता के साथ ग्वालियर के इतिहास व संस्कृति की झलक दिखाई देगी। मराठा गैलरी में भी छत्रपति शिवाजी से लेकर रानी लक्ष्मीबाई के योगदान के बारे में इतिहास की पूरी जानकारी दिखाई जायेगी।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संकल्प है कि देश के हर नागरिक तक हवाई सेवाओं की पहुंच होनी चाहिए। इसलिए ग्वालियर में नए एयरपोर्ट टर्मिनल का भूमिपूजन श्री शाह करेंगे।
इस टर्मिनल के डिजाइन में आधुनिकता के साथ इतिहास व संस्कृति का संगम देखने को मिलेगा। ऐसा हर नए एयरपोर्ट निर्माण में किया जा रहा है, जिससे शहर का इतिहास लोग जान सकेगें।श्री सिंधिया ने बताया कि देश में एयरक्राफ्ट उड़ाने वाले पायलटों की और जरुरत है। इसके लिए पायलट ट्रेनिंग संस्थानों की स्थापना भी शीघ्र की जा रही है। उन्होंने बताया कि अभी देश में 34 फ्लाइंग ट्रेनिंग स्कूल हैं 14 और स्थापित हो रहे हैं। इसमें से दो खजुराहो में स्थापित किए जा रहे हैं। पायलट बनने से युवाओं को रोजगार भी मिलेगा। सिंधिया ने बताया कि देश में जहां 67 वर्षों में केवल 74 एयरपोर्ट थे, वहीं पिछले आठ वर्षों में नए 67 और बन गए। अब 2026-27 तक इनकी संख्या 141 से बढ़ाकर 210 की जाएगी।उन्होंने बताया कि उड्डयन मंत्रालय का काम केवल हवाई जहाज तक सीमित नहीं है, बल्कि पूरी नीतियां बनाने का काम हो रहा है। इसमें कार्गो से लेकर ड्रोन और इसके साथ एयरोस्पेस स्पोट्र्स पॉलिसी भी बनाई जा रही है। देश में कई ऐसे स्थान हैं, जहां हॉट एयर बैलून, पैराग्लाइडिंग, मोटोफ्लाइंग भी की जा सकती है। इस अवसर पर परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, ग्वालियर के प्रभारी एवं जलसंसाधन मंत्री तुलसी सिलावट, नागर विमानन के प्रमुख सचिव राजीव बंसल, भाजपा जिलाध्यक्ष अभय चौधरी आदि मौजूद थे।