श्रेष्ठ कौन?
   Date13-Oct-2022

df3
प्रेरणादीप
शि ष्य मंडली ने भगवान बुद्ध से पूछा - 'भगवन! मनुष्य के कितने वर्ग हैं?Ó
तथागत ने उत्तर दिया - 'प्रिय शिष्यों! एक वे, जो अपना ही लाभ देखते हैं, भले ही इससे दूसरों को कितनी ही हानि उठानी पड़ती हो। दूसरे वे, जो औरों का भला करते हैं। तीसरे वे, जो अपना भी भला करते हैं और दूसरों का भी। चौथे वे प्रमादी हैं, जो न स्वयं सुखी रहते हैं न दूसरों को सुखी रहने देते हैं।Ó तथागत निष्कर्ष रूप में कहने लगे- 'मेरी समझ में वे श्रेष्ठ है, जो अपने साथ-साथ दूसरों का भी भला करते हैं।Ó शिष्यों की जिज्ञासा का समाधान हुआ।