वैष्णो देवी धाम में हादसा, 12 श्रद्धालुओं की मौत
   Date02-Jan-2022

rt1
जम्मू द्य 1 जनवरी (ए)
नए साल में माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ में 12 श्रद्धालुओं की मौत हो गई है और 15 घायल हैं। घायलों को नारायणा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों में उत्तरप्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और जम्मू-कश्मीर के लोग शामिल हैं। उधर शनिवार शाम उपराज्यपाल मनोज सिन्हा अस्पताल पहुंचे। उन्होंने सभी घायलों से मुलाकात कर घटना की जानकारी ली। अस्पताल प्रशासन को सभी घायलों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाने के निर्देश दिए। सुबह हुए हादसे के बाद यात्रा को कुछ देर के लिए रोका गया। घटना के बाद कई श्रद्धालओं ने घर वापसी की राह पकड़ ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने हताहतों के परिजनों से संवेदना जताई है और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। प्रधानमंत्री ने घोषणा की है कि मारे गए श्रद्धालुओं के परिजनों को 2 लाख रुपए दिए जाएंगे। हादसे में घायल हुए लोगों को 50 हजार रुपए दिए जाएंगे। उच्च स्तरीय जांच के आदेश - श्राइन बोर्ड ने अपने बयान में कहा कि हादसे में 12 श्रद्धालुओं की मौत हुई और 15 श्रद्धालु घायल हो गए हैं। सरकार ने तीन सदस्यों की टीम को उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं, जिसकी अध्यक्षता प्रिंसिपल सेक्रेटरी होम करेंगे और उनके अलावा एडीजीपी जम्मू जोन और डिविजनल कमिश्नर जम्मू इसके सदस्य होंगे।
अमित शाह ने घटना पर जताया दु:ख - केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने घटना पर दु:ख जताया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि माता वैष्णो देवी मंदिर में हुई दु:खद दुर्घटना से हृदय अत्यंत व्यथित है। इस संबंध में मैंने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से बात की है।
घायलों के नाम - ऋषिकेश (23) निवासी मुंबई, सुमित (29) पठानकोट पंजाब, विकास तिवारी (35) निवासी मुंबई, आयुष (25) निवासी छन्नी जम्मू, कपिल (25) निवासी दिल्ली, नितिन गर्ग (23) निवासी गंगानगर राजस्थान, किरण (18) निवासी हरियाणा, आशीष कुमार जैसवाल (25) निवासी प्रयागराज उप्र, भंवरलाल (47) निवासी मंदसौर मध्यप्रदेश, साहिल कुमार (22) निवासी आरएस पुरा जम्मू, आदित्य महाजन (16) छन्नी हिम्मत जम्मू, प्रशांत हांडा (30) निवासी जयपुर राजस्थान, सरिता (42) निवासी दिल्ली। दो घायलों की पहचान नहीं हो पाई है।