जातियों में बांटने का षड्यंत्र विफल करेंगे
   Date13-Jan-2022

ws3
खंडवा ठ्ठ स्वदेश समाचार
आज भी हिन्दू समाज को भिन्न-भिन्न तरह से षड्यंत्र कर जातियों में बांटने का कुत्सित प्रयास किया जा रहा है जिसके अंतर्गत भील हिन्दू नहीं है, गौंड हिन्दू नहीं है, जैसे विचार आदिवासी अंचलों में प्रचारित किए जा रहे है। जबकि गौंड राजाओं के शिलालेखों पर श्रीराम एवं श्री गणेशाय नम: का उल्लेख है। आज भी मुसलमान को में एक वर्ग ऐसा है जो सोचता है कि इस देश का तख्त हमें पुन: मिलना चाहिए। किंतु उनके ये इरादे न आज तक पूर्ण हुए न भविष्य में पूर्ण होने देंगे। बजरंग दल का प्रत्येक कार्यकर्ता अपने राष्ट्र व धार्मिक मूल्यों की रक्षा के लिए सीना तानकर खड़ा है। उक्त बातें विहिप के केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने कही। वे बुधवार को खंडवा में विहिप एवं बजरंग दल के संयुक्त तत्वावधान में हिन्दू युवा सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।
अगर हमारी आबादी कम होगी तो आने वाले भविष्य में हमारे अस्तित्व का संकट खड़ा हो जाएगा इसलिए हर हिन्दू परिवार में 2 या अधिक बच्चे होना चाहिए। सम्मेलन में बजरंग दल द्वारा शस्त्र बिना शास्त्र नहीं की तर्ज पर धार्मिक व सामाजिक सुरक्षा हेतू त्रिशूल दीक्षा दी गई।