मोहर्रम के जुलूस में गूंजा पाक जिंदाबाद
   Date21-Aug-2021

ed1_1  H x W: 0
राष्ट्रघात की पराकाष्ठा : उज्जैन में पाकिस्तान-तालिबान जिंदाबाद के नारे लगे, 4 गिरफ्तार
उज्जैन ठ्ठ 20 अगस्त (स्वदेश समाचार)
इंदौर-भोपाल-खंडवा- बुरहानपुर के बाद अब उज्जैन में भी देशद्रोही हरकत सामने आई है। देश में रहकर देश के खिलाफ बोलना मानों वर्ग विशेष ने अपना धर्म बना लिया है। उज्जैन की गीता कॉलोनी में गुरुवार की रात को मोहर्रम के जुलूस में कु छ लोगों ने पाकिस्तान और तालीबान जिंदाबाद के नारे तक खुलकर लगा दिए। पहले इन लोगों ने देश के विरोध मेें नारेबाजी की। बाद में पाकिस्तान और तालिबान के प्रति प्रेम दिखाया। पुलिस इन लोगों को रोकती रही, लेकिन यह गद्दार जहरीली मस्ती में मस्त रहे। कु छ देर बाद जब पुलिस ने सख्त रवैया अपनाया, तो यह सभी भाग खड़े हुए। इसके बाद वीडियो के आधार पर करीब 15 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। इनमें से 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। साथ ही अब कई लोग इनके समर्थन में तर्क दे रहे हैं कि यह लोग इस्लामी नारे लगा रहे थे।
जानकारी के अनुसार जीवाजीगंज थाना क्षेत्र के गीता कालोनी में गुरुवार रात को कुछ शरारती तत्वों ने देश विरोधी नारे लगाए। जिस पर भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। पुलिस ने दो दर्जन लोगों के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज किया है। इनमें सात लोगों को नामजद आरोपित बनाया है। बताया जा रहा है कि देर रात पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। गीता कालोनी में हुए बवाल के बाद एडीजी योगेश देशमुख, एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल् सहित अन्य अधिकारी खाराकुआं थाने पहुंचे और रात में हुए हंगामे के वीडियो फुटेज खंगाले।
एएसपी अमरेंद्रसिंह ने बताया कि गुरुवार रात को गीता कालोनी स्थित बड़े साहब के यहां वर्ग विशेष के लोग दर्शन करने के लिए पहुंचे थे। वहां सुरक्षा के लिए पुलिस बल तैनात था। भीड़ को देखकर पुलिसकर्मी व्यवस्था बना रहे थे। उसी दौरान वहां करीब दो दर्जन युवाओं ने देश विरोधी नारे लगाना शुरू कर दिए। इनमें पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगाए गए। बताया जा रहा है कि तालिबान जिंदाबाद के भी नारे लगाए गए। हालांकि पुलिस इससे इंकार कर रही है। हंगामे की सूचना मिलने पर रात को भारी पुलिस फोर्स गीता कालोनी क्षेत्र, खजूर वाली मजिस्द क्षेत्र में तैनात कर दिया गया था। शुक्रवार सुबह एडीजी योगेश देशमुख, एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल, एएसपी अमरेंद्रसिंह सहित अन्य पुलिस अधिकारियों ने खाराकुआं थाने में बैठकर वीडियो फुटेज खंगाले और नारेबाजी करने वाले लोगों की पहचान की। अधिकारियों का कहना है कि नारे लगाने वाले लोगों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।