30 दिन के अंदर दें बिल्डिंग परमिशन- मंत्री भूपेन्द्र सिंह
   Date13-Jul-2021

ty6_1  H x W: 0
भोपाल ठ्ठ 12 जुलाई (वा)
प्रस्तावित मध्यप्रदेश नगर पालिका (कॉलोनी विकास) नियम-2021 का प्रकाशन कर 15 दिन में आमजन से आपत्ति/सुझाव प्राप्त किए जाएं। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने यह निर्देश विभागीय नियमों पर चर्चा के दौरान दिए। श्री सिंह ने कहा कि बिल्डिंग परमिशन 30 दिन के अंदर देना सुनिश्चित करें।
उन्होंने कहा कि कहीं पर भी निर्धारित समयावधि से अधिक समय के आवेदन लंबित नहीं रहना चाहिए। आयुक्त नगरीय प्रशासन एवं विकास निकुंज श्रीवास्तव ने बताया कि इसके लिए सर्वर भी अपडेट किया जा रहा है।
श्री सिंह ने कहा कि पेयजल और सीवरेज का काम समय पर नहीं करने वाले कांट्रेक्टर्स के विरुद्ध कार्रवाई करें। नए संशोधन के अनुसार कंपाउंडिंग से संबंधित प्रकरणों के निपटारे के लिए शिविर लगाये जा सकते हैं। श्री सिंह ने कहा कि संबंधित भवन स्वामियों को नोटिस जारी करें। कंपाउंडिंग शुल्क में छूट की सीमा भी निर्धारित की जाए।
श्री सिंह ने सड़कों का संधारण और नालों की सफाई के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोविड अनुकूल व्यवहार के लिए लोगों को समझाइश दी जाए। जिन दुकानों में ज्यादा भीड़ होती है, वहां कूपन सिस्टम लागू करवाएं। व्यापारियों से भी बात करें। लोगों को मास्क जरूर लगवाएं। इस दौरान प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास मनीष सिंह एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
एसओआर रिवाइज करें -नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री सिंह ने कहा कि नगरीय निकायों में चलने वाले कार्यों का एसओआर रिवाइज करें। उन्होंने कहा कि इससे गुणवत्तापूर्ण कार्य कराने में सहूलियत होगी। श्री सिंह ने कहा कि शहरी आजीविका मिशन के तहत आवंटित राशि का सदुपयोग सुनिश्चित करें। ट्रेनिंग के लिए पैरामीटर निर्धारित कर योजना की सतत मानिटरिंग करें। स्वसहायता समूहों को ट्रेनिंग देकर बैंक लिंकेज करवाएं। यह योजना अब सभी 407 नगरीय निकायों में लागू कर दी गई है।
सहकारी संस्थाएं पूरी तरह कम्प्यूटराइज होंगी-भदौरिया
रायसेन ठ्ठ मध्यप्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया ने आज कहा हैं कि सहकारी बैंकों एवं सहकारी समितियों को कम्प्यूटराइज किया जाएगा। श्री भदौरिया ने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि तेलंगाना और उत्तराखंड राज्य के बाद मध्यप्रदेश ऐसा जिला होगा, जहां लगभग 250 करोड़ की लागत से सहकारी संस्थानों को पूरी तरह कम्प्यूटराइज कराकर भ्रष्टाचार को जीरो परसेंट किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सहकारिता में भ्रष्टाचार पूरी तरह रोका जाएगा। जिन्होंने भ्रष्टाचार किया है या करने वालों को जेल भेजा जाएगा।
श्री भदौरिया ने जनसंख्या नियंत्रण के सवाल पर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि जनसंख्या नियंत्रण होना चाहिए। 140 करोड़ के देश में चाहे किसी भी धर्म सम्प्रदाय का व्यक्ति हो, जनसंख्या नियंत्रण के लिए आना होगा, तभी देश आगे बढ़ेगा।