कोरोना के 53 फीसदी मामले केरल और महाराष्ट्र में
   Date10-Jul-2021

az5_1  H x W: 0
टूरिस्ट हॉट स्पॉट में संक्रण के तेज रफ्तार से फैलने का खतरा बढ़ा
नई दिल्ली ठ्ठ 9 जुलाई (ए)
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि कोरोना संक्रमण के कुल मामलों में आधे से ज्यादा मामले 2 राज्यों महाराष्ट्र और केरल में सामने आए हैं। कुल 53 फीसदी मामले इन्हीं राज्यों में मिले हैं। बीते 24 घंटे में सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में 9,083 और केरल में 13,772 में मिले हैं। सबसे ज्यादा एक्टिव केस भी यहीं हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि महाराष्ट्र में 3 जुलाई को 8,700 से अधिक नए मामले दर्ज हुए, जो 6 जुलाई को घटकर 6,700 के करीब आ गए। हालांकि इसके बाद हर दिन इससे अधिक नए मामले मिले। वहीं, केरल में 2 जुलाई को 12,800 से अधिक मामले दर्ज हुए, जो 6 जुलाई को 8,300 के करीब आ गए। हालांकि इसके बाद हर दिन इससे ज्यादा मामले मिले।
कई देशों में संक्रमण के मामले दोबारा बढ़े-मंत्रालय ने बताया कि देश में रिकवरी में इजाफा हुआ है। रिकवरी रेट आज 97.2 फीसदी है। लव अग्रवाल ने कहा कि हम अभी भी कोरोना की दूसरी लहर से निपट रहे हैं। हमें सावधानी बरतने की जरूरत है। ब्रिटेन, रूस और बांग्लादेश में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज हुई है।
बाजारों और पर्यटन स्थलों पर लापरवाही बढ़ी-नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वीके पॉल ने कहा कि बाजारों और टूरिस्ट प्लेस पर लापरवाही हो रही है। इसलिए वहां एक नया खतरा दिखाई दे रहा है, वायरस के लिए एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचना आसान हो रहा है।
तीसरी लहर भी आ सकती है-पॉल ने कहा कि हम सुरक्षा को कम नहीं कर सकते। टूरिस्ट प्लेस पर एक नया जोखिम देखने को मिल रहा है। जहां भीड़ का जमावड़ा बढ़ा है, वहां पर न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा और ना ही लोग मास्क लगा रहे हैं।