फाइनल मुकाबला जीतने के लिए भारत तैयार
   Date18-Jun-2021

sd8_1  H x W: 0
पहला विश्व टेस्ट चैम्पियन बनने उतरेंगे भारत और न्यूजीलैंड
साउथम्पटन ठ्ठ 17 जून (वा)
भारत और न्यूजीलैंड शुक्रवार से यहां रोज बॉल में होने वाले पहले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में टेस्ट क्रिकेट का बादशाह बनाने के इरादे से उतरेंगे। इस फाइनल के साथ विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के दो साल के क्रम का अंत हो जाएगा, जिसे टेस्ट क्रिकेट को नया जीवन देने के उद्देश्य के साथ 2019 में शुरू किया गया था। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद चाहती है कि चैम्पियनशिप से टेस्ट क्रिकेट को संदर्भ और मायने मिले और न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन का मानना है कि यह सफल रहा है। विराट ने कहा है कि फाइनल मुकाबला जीतने के लिए हम तैयार हैं।
32 वर्षीय विराट के दिमाग में डब्ल्यूटीसी फाइनल का महत्व बसा हुआ है। विराट ने कहा कि डब्ल्यूटीसी फाइनल का खासा महत्व है, क्योंकि यह सबसे मुश्किल इस फॉर्मेट में पहली बार आयोजित हो रहा है। विराट ने कहा कि यह फाइनल के दौरान कड़ी मेहनत का फल नहीं होगा, बल्कि यह पिछले पांच-छह वर्षों की मेहनत का फल होगा। डब्ल्यूटीसी फाइनल भारत की स्टार खिलाडिय़ों से सुसज्जित बल्लेबाजी लाइनअप और न्यूजीलैंड के विविधतापूर्ण तेज आक्रमण का मुकाबला होगा, खासतौर पर फाइनल में इस्तेमाल होने वाली तेज और स्विंग लेने वाली ड्यूक्स बॉल के साथ। 30 वर्षीय विलियम्सन ने कहा कि प्रतियोगिता के अंतिम दौर में हमने देखा था कि टीमें क्वालीफाई करने के लिए अपना पूरा जोर लगा रही थीं, जिससे कई रोमांचक परिणाम देखने को मिले। हमने ऑस्ट्रेलिया में और न्यूजीलैंड में देखा था कि कई टीमों के पास फाइनल में जाने का मौका था।
न्यूजीलैंड बड़े फाइनल में लडख़ड़ाने का ठप्पा उतारने के मूड में है। कीवी टीम पिछले दो वनडे विश्वकप में उपविजेता रही है। खासतौर पर 2019 में इंग्लैंड में खेला गया विश्वकप जब फाइनल का सुपर ओवर भी टाई रहने के बाद इंग्लैंड ने बॉउंड्री काउंट नियम के आधार पर विश्व चैम्पियन बनने का गौरव हासिल किया था। इसके मुकाबले भारत ने मार्च के बाद से कोई टेस्ट नहीं खेला है और उसने विराट कोहली की कप्तानी में कोई आईसीसी ट्रॉफी भी नहीं जीती है।
फाइनल में विराट कोहली और विलियम्सन की कप्तानी का भी अलग-अलग अंदाज देखने को मिलेगा। आईसीसी इस बात से खुश है कि डब्ल्यूटीसी फाइनल ने टेस्ट क्रिकेट में ज्यादा दिलचस्पी पैदा की है। आईसीसी के कार्यवाहक सीईओ ज्यॉफ अलरडाइस ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि यह स्पष्ट है कि कुछ सीरीज में दिलचस्पी फाइनल में शामिल दो टीमों को लेकर सीमित नहीं थी।