5 फीसदी से कम संक्रमण दर वाले जिलों में मिलेगी छूट
   Date30-May-2021

ed9_1  H x W: 0
मप्र में अनलॉक की तैयारी, मुख्यमंत्री के समक्ष पेश की सिफारिशें
क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप 31
मई तक करेगा फैसला
भोपाल ठ्ठ 29 मई (ब्यूरो)
मध्यप्रदेश में कोरोना अब काबू में आ रहा है। तीसरी लहर की आशंका की वजह से शिवराज सरकार ने 1 जून से धीरे-धीरे अनलॉक करने की तैयार कर ली है। इसके लिए गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा की अध्यक्षता में मंत्रियों के समूहों ने अनलॉक को लेकर सरकार से सिफारिशें की हैं। स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर खोलने के लिए भी मंत्री समूह का गठन किया गया है। यह जल्दी ही बैठक कर अपनी सिफारिशें सरकार को भेजेगा।
अफसरों ने कल देर शाम मंत्री समूह की सिफारिशें को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के सामने प्रेजेंट किया। इसमें कहा गया कि जिन जिलों में संक्रमण दर 5 फीसदी से कम है, वहां कफ्र्यू में ढील देकर लोगों को राहत दी जा सकती है। भोपाल और इंदौर में यह दर फिलहाल 5 फीसदी से ज्यादा है। ऐसे में यहां ज्यादा छूट नहीं देने की सिफारिश की गई है। मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने बैठक में कहा कि भोपाल और इंदौर 40 दिन से ज्यादा समय से बंद है, इसलिए यहां भी थोड़ी राहत देनी चाहिए। इस पर मुख्यमंत्री ने मंत्री समूह की सिफारिशों पर एक गाइडलाइन तैयार करने के लिए कहा। इसके आधार पर जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप 31 मई तक बैठक कर निर्णय लें, ताकि 1 जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो सके।