रूसी वैक्सीन की पहली खेप हैदराबाद पहुंची
   Date02-May-2021

AZ2_1  H x W: 0
हैदराबाद द्य 1 मई (ए)
रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-वी की पहली खेप भारत पहुंच गई है। 1.5 लाख डोज लेकर रूसी विमान ने शनिवार को करीब 4 बजे हैदराबाद में लैंड किया। इसके साथ ही देश को कोरोना के खिलाफ तीसरा हथियार मिल गया है। आज ही देश में टीकाकरण के पहले फेज की शुरुआत हुई है, जिसे स्पूतनिक-वी के आने से तेजी मिलेगी।
भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सीन के साथ कोरोना के खिलाफ जंग जारी है। आज से 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए भी टीकाकरण अभियान की शुरुआत कर दी गई है। स्पूतनिक-वी की पहली खेप से इस अभियान में तेजी आएगी। आपके बता दें कि भारत ने हाल ही में रूसी वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दी थी।
ठ्ठ स्पूतनिक-वी मानव एडेनोवायरल वैक्टर पर आधारित है, तीन वैक्सीन में से एक है (अन्य दो फाइजर और मॉडर्ना की बनाई हुई हैं) जिनमें कोरोनो वायरस बीमारी के खिलाफ 90 प्रतिशत से अधिक प्रभावकारिता है, जो एसएआरएस-सीओवी-2 के कारण होती है। इसे 12 अप्रैल को भारत में विनियामक अनुमोदन या आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी गई थी। इसकी स्थापना के लिए सशस्त्र बलों की मदद लेने के सुझावों पर, दिल्ली सरकार के वकील ने कहा कि हम उच्चतम स्तर पर प्रक्रिया में हैं। सरकार इसे देख रही है। हम 15000 और बेड लेकर आ रहे हैं।