जीवन में नियमित हो योग - चूड़ासमा
   Date14-May-2021

er5_1  H x W: 0
विद्या भारती मालवा प्रांत द्वारा आयोजित प्रांतीय महिला योग शिविर का समापन
गुरुवार ठ्ठ 13 मई (स्वदेश समाचार)
विद्या भारती मालवा प्रांत द्वारा आयोजित सात दिवसीय प्रांतीय महिला योग शिविर 7 मई 2021 से प्रारंभ होकर गुरुवार को समापन हुआ। इस शिविर में प्रांत के समस्त शिशु मंदिरों की संचालन समिति की महिला कार्यकर्ता व प्रधानाचार्य दीदियां अपेक्षित थीं। अपेक्षित संख्या 147 थी, जिसमें प्रतिदिन 95 से 100 औसत उपस्थित रहीं। गुरुवार को समापन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में अखिल भारतीय शिक्षा संयोजिका सुश्री रेखा चूड़ासमा व सरस्वती विद्या प्रतिष्ठान के डॉ. कमल किशोर चितलांग्या का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। आपने बताया कि योग हमारे जीवन में नियमित होना चाहिए, वर्तमान संकटकाल में हम स्वयं को, परिवार को, प्राणायाम, योग, आसन के माध्यम से स्वस्थ रख सकते हैं। योग के साथ-साथ हमें खानपान एवं अपनी दिनचर्या पर ध्यान देना चाहिए।
यह योग सिखाये-इन सात दिनों में योग का प्रशिक्षण सरस्वती शिशु मंदिर की पूर्व छात्रा, सुश्री प्रियंका धनोतिया, सुश्री मेघा गंगराड़े, जया गुप्ता व योग संस्थान संचालिका श्रीमती रूपाली गुप्ता, डॉ. शिवा लोहारिया (राजस्थान), श्रीमती दिव्या बुधवानी, निशा जोशी ने विभिन्न आसन ताड़ासन, वृक्षासन, सूर्य नमस्कार, वज्रासन, शशंकासन जैसे अनेकों आसन सिखाये। साथ ही कोरोनाकाल में फेफड़े, लीवर, किडनी व हृदय को मजबूत करने के लिए प्राणायाम, अनुलोम, विलोम, भ्रस्तिका, कपालभाती, भ्रामरी, रेचक कुंभक, फेफड़े शुद्धिकरण के लिए ऑक्सीजन स्तर बढ़ाने के लिए विभिन्न प्रयोग सिखाये। इस अवसर पर प्रांत की ओर से पूरे समय श्रीमती हिना नीमा प्रांतीय सहसचिव व शालिनी रतोरिया प्रांतीय सदस्य का मार्गदर्शन भी प्राप्त हुआ। इस शिविर का पूर्ण संचालन टोली संयोजक श्रीमती शोभा तोमर का था। समापन अवसर पर कार्यक्रम का संचालन व अतिथि परिचय श्रीमती संगीता चौहान ने किया। अंत में आभार श्रीमती हिना नीमा ने माना।