टीका व रोजगार साथ चलेंगे
   Date21-Apr-2021

ws1_1  H x W: 0
प्रधानमंत्री का अनुशासन का आह्वान : राज्यों से कहा तालबंदी अंतिम विकल्प
नई दिल्ली ठ्ठ 20 अप्रैल (ए)
कोरोना संकट के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तालाबंदी जैसी आशंकाओं से देशवासियों को राहत दी है। देश की जनता को भरोसा दिलाते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में रोजगार और टीका साथ चलेंगे। यही नहीं, उन्होंने राज्यों से भी अपील की है कि तालाबंदी जैसी चीजों को आखिरी विकल्प के तौर पर ही अपनाएं। श्री मोदी ने कहा कि हमें आज जागरूकता की जरूरत है। यदि समाज खुद से उठ खड़ा हो तो फिर कंटेनमेंट जोन से लेकर तालाबंदी तक की पाबंदियों की जरूरत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इस जागरूकता के अभियान के लिए सामाजिक संगठनों को आगे आने की जरूरत है। श्री मोदी ने कहा कि प्रचार माध्यमों से भी मेरी प्रार्थना है कि लोगों को सतर्क और जागरूक करने के लिए अपने प्रयासों को बढ़ाएं। इसके अलावा यह प्रयास भी करें कि डर का माहौल कम हो सके और लोग किसी भी तरह के भय और भ्रम की स्थिति में न आएं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं राज्यों से भी अपील करूंगा कि तालाबंदी को अंतिम विकल्प के तौर पर भी इस्तेमाल करेंगे। श्री मोदी ने कहा कि हम देशवासियों की भी सेहत सुधारेंगे और अर्थव्यवस्था का भी सुधार करेंगे।
ऑक्सीजन की कमी की बात मानी -देश के कई राज्यों में ऑक्सीजन की किल्लत को मानते हुए श्री मोदी ने कहा कि इस संकट से निपटने के लिए तेजी से उपाय किए जा रहे हैं। फैसिलिटी बढ़ाने से लेकर ऑक्सीजन रेल चलाने तक की कोशिशें की जा रही हैं। कोरोना की नई लहर आने के बाद से फार्मा कंपनियों ने दवाइयों के उत्पादन में तेजी लाने का काम किया है। इसे और बढ़ाया जा रहा है। कल भी मेरी फार्मा कंपनियों के लोगों से बात हुई है। उत्पादन में इजाफे के लिए हर तरह से दवा कंपनियों की मदद ली जा रही है। हमारा सौभाग्य है कि देश में इतना मजबूत फार्मा सेक्टर है। इसके अलावा देश के अस्पतालों में बेड्स को बढ़ाने का काम भी तेजी से चल रहा है। कुछ शहरों में बड़े कोविड अस्पताल भी बनाए जा रहे हैं। श्री मोदी ने कहा कि देश की कंपनियों ने तेजी से कोरोना टीके तैयार की हैं। हमारे यहां कम दाम में बड़ी मात्रा में टीके उपलब्ध हैं।