30 अप्रैल तक बिना वजह घर से न निकलें
   Date19-Apr-2021

es1_1  H x W: 0
मुख्यमंत्री ने माना कोरोना संकट विकट : निजी अस्पतालों को खोलने के लिए सरकारी भवन उपलब्ध कराएंगे, जनता से अपील
भोपाल ठ्ठ 18 अप्रैल (ब्यूरो)
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह ने कहा है कि मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4 लाख के पार हो चुका है। अप्रैल के 17 दिनों में ही 1 लाख मामले मिल चुके हैं। रविवार शाम 7 बजे मुख्यमंत्री संदेश के दौरान शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि कोरोना का संकट विकट है। इसके इलाज में निजी अस्पतालों की भी अहम भूमिका है। यदि इस समय कोई प्राइवेट हॉस्पिटल चालू करना चाहता है तो उसे सरकारी भवन व अन्य सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। उन्होंने कहा है कि 30 अप्रैल तक कोई भी अनावश्यक रूप से घर से न निकलें। गांव, मोहल्लों, कॉलोनियों, भवनों आदि में लोग जनता कफ्र्यू लगाएं।
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि सभी के सहयोग से हम इस लड़ाई को जल्दी जीतेंगे। कोरोना शीघ्र हारेगा। उन्होंने कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में सभी धार्मिक, सामाजिक, राजनीतिक तथा अन्य संगठनों एवं जनसामान्य से पूरा सहयोग करने की अपील की।
होम आइसोलेशन में सभी सुविधाएं-मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होम आइसोलेशन में सरकार द्वारा कोरोना के इलाज की सभी सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। आवश्यकता होने पर अस्पताल ले जाने के लिए एम्बुलेंस की व्यवस्था भी की जा रही है। जिन मरीजों के घर में जगह कम है, वे कोविड केयर सेंटर में रहें। वहां पर दवाई के अलावा भोजन, चाय-नाश्ता आदि की व्यवस्था भी की गई है। सभी जिलों में कोविड केयर सेंटर चालू हो गए हैं।
कोरोना वॉलेंटियर्स बनें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना वॉलेंटियर्स कोरोना के नियंत्रण में सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। सेवा का इच्छुक कोई भी व्यक्ति 181 पर कॉल कर कोरोना वॉलेंटियर्स बन सकता है। प्रदेश में अभी तक 97 हजार 500 कोरोना वॉलेंटियर्स पंजीकृत हुए हैं।