केंद्रीय कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में पिछड़ा बंगाल
   Date03-Mar-2021

rt5_1  H x W: 0
बंगाल के मालदा में योगी आदित्यनाथ ने भरी हुंकार
मालदा ठ्ठ 2 मार्च (ए)
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर कथित तुष्टिकरण की नीति को बढ़ावा दिए जाने का आरोप लगाया और कहा कि प्रदेश गरीबों और किसानों के लिए केंद्रीय कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन के मामले में पिछड़ रहा है।
अल्पसंख्यक बहुल जिले मालदा के गाजोली में रैली को संबोधित करते हुए श्री आदित्यनाथ ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आए लोगों को भारत की नागरिकता देने के लिए कानून पारित किया है लेकिन ममता बनर्जी सरकार ने केंद्र के इस कदम का विरोध किया है। उन्होंने राज्य सरकार पर स्थानीय लोगों के विकास में रोड़ा बनने का यह कहते हुए आरोप लगाया कि जब केंद्र सरकार बंगाल से अवैध विदेशी नागरिकों को हटाने की योजना बना रही थी, तब इसका विरोध किया गया।
उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस सरकार राज्य में 'जयश्री रामÓ का उद्घोष किए जाने का विरोध कर रही है। उन्होंने कहा मैं बंगाल सरकार और ममता दीदी को बताना चाहता हूं कि उत्तर प्रदेश में एक सरकार ने अयोध्या में भगवान राम के भक्तों पर गोलियां चलवाई थी। आप देख सकते हैं कि अब सरकार की क्या स्थिति है। अब बंगाल में तृणमूल कांग्रेस सरकार की बारी है। श्री आदित्यनाथ ने 'लव जिहादÓ के मुद्दे पर पश्चिम बंगाल सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने उत्तर प्रदेश में 'लव जिहादÓ के खिलाफ कानून बनाया है। उन्होंने चेतावनी दी कि राज्य सरकार गौ तस्करी और लव जिहाद को रोकने में असमर्थ है तथा आने वाले समय में ऐसी खतरनाक गतिविधियों के परिणाम दिखाई देंगे।
उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में दो मई को राष्ट्रवाद का दीपोत्सव मनाया जाएगा , जब सभी 294 सीटों के परिणाम आएंगे।