शहीद बादलसिंह को पत्नी सहित पूरे नगर ने दी सलामी
   Date28-Mar-2021

rg6_1  H x W: 0
नागदा जं. (निप्र) ठ्ठ सियाचीन में बुधवार शाम को शहीद हुए सैनिक बादलसिंह चंदेल का पार्थिव शरीर शनिवार सुबह 11 बजे गृह नगर नागदा पहुंचा। रामसहाय मार्ग निवास पर शहीद की शहादत को सलामी देने के लिए बड़ी संख्या में देशभक्त जमा हुए। अंतिम संस्कार में पूरा नगर उमड़ पड़ा व शहीद की पत्नी दीपिका सहित सलामी दी।
उस समय वातावरण गमगीन हो गया, जब शहीद की पत्नी दीपिका चंदेल ने अपने तीन वर्षीय मासूम बेटे विमान को गोद में लेकर शहीद को सलामी दी।शहीद की शवयात्रा में नागदा शहर के अलावा खाचरौद, उन्हेल, महिदपुर व उज्जैन से भी कई लोग आए थे। चंबल तट पर अपरान्ह 3 बजे शहीद पंचतत्व में विलीन हुआ। शहीद को मुखाग्नि उसके तीन वर्षीय बेटे विमान व छोटे भाई जयसिंह ने दी।
इसके पूर्व 3 बार भारतीय सेना ने फायरिंग कर शहीद को श्रद्धांजलि दी। पार्थिव शरीर को रामसहाय मार्ग पर बादलसिंह के निवास के अंदर सामाजिक रस्म के लिए ले जाया गया। दोपहर लगभग 11:50 बजे शहर में भ्रमण के लिए निकले और लगभग 5 किमी का सफर तय कर दोपहर 2 बजे चंबल तट पर पहुंचा।
शहर में देशभक्ति का माहौल -शहीद की अंतिम यात्रा में पूरा शहर देशभक्ति से ओतप्रोत हो गया। जिस भी मार्ग से शहीद की शवयात्रा निकली, लोगों ने अपने मकानों की छत और बालकनियों से पुष्प बरसाए।