स्मार्ट मीटर के संकेत से इंदौर में पकड़ी 5 लाख की बिजली चोरी
   Date19-Feb-2021

dc2_1  H x W: 0
इंदौर ठ्ठ 18 फरवरी (स्वदेश समाचार)
पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के इंदौर शहर वृत्त के दल ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए लगभग 5 लाख की बिजली चोरी पकड़ी है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने इंदौर शहर वृत्त की इस कार्रवाई की प्रशंसा कर दल को बधाई दी है।
मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के इंदौर शहर अधीक्षण यंत्री कामेश श्रीवास्तव ने बताया है कि शहर वृत्त को स्मार्ट मीटर सेल से टाटपट्टी बाखल में बिजली चोरी व गड़बड़ी के संकेत मिले थे। इसी आधार पर राजमोहल्ला जोन की टीम बनाकर गुरुवार दोपहर कार्रवाई की गई। पांच सदस्यीय दल ने टाटपट्टी बाखल के उपभोक्ता मो. आजम के यहां छापा मारा। इस उपभोक्ता ने स्मार्ट मीटर में छेड़छाड़ कर सीधे बिजली उपयोग की व्यवस्था कर रखी थी। इस कारण उपभोक्ता के पूर्व मंजूर सात किलो वाट लोड की बजाए मात्र दो से तीन किलो वाट लोड के ही बिल आ रहे थे।
ठ्ठअधीक्षण यंत्री श्री श्रीवास्तव ने बताया कि दल ने जब छापा मारा एवं परिसर में बिजली उपयोग की विस्तृत जांच की तो चार एसी, दो गीजर समेत 13 प्रकार के कुल 40 उपकरण उपयोग में पाए गए। इनका कुल लोड 28 किलो वाट पाया गया। इसी आधार पर बिजली चोरी एवं दंड राशि की गणना की गई है। यह लगभग पांच लाख रुपए है। इस कार्रवाई में इंजीनियर भास्कर घोष, आरके शाह, बिजली कर्मी दिनेश रायकवार, अयाज खान, रवि बड़ोदिया का विशेष सहयोग रहा। बिजली कंपनी ने कहा है कि बिजली चोरी पकड़ में आने पर मौजूदा लोड के आधार पर वर्षभर की राशि, दोगुना दंड एवं मीटर खराब होने पर पूरी कीमत भी वसूली जाती है।