भोजशाला में 5 दिवसीय वसंतोत्सव आज से
   Date16-Feb-2021

as4_1  H x W: 0
धार ठ्ठ स्वदेश समाचार
भोजशाला की मुक्ति और उसके गौरव तथा माँ वाग्देवी की पुनस्र्थापना हेतु दृढ़ संकल्पित महाराजा भोज स्मृति वसंतोत्सव समिति द्वारा महाराजा भोज द्वारा स्थापित 987वां वसंतोत्सव 16 से 20 फरवरी तक परम्परा अनुसार धूमधाम से मनाया जाएगा। कार्यक्रम से संबंधित विभिन्न कार्य व्यवस्थाओं की दायित्ववान कार्यकर्ताओं की टोली द्वारा कार्यक्रम की सफलता हेतु दिन-रात लगी होकर मेहनत की गई है।
कल 16 फरवरी मंगलवार को वसंत पंचमी पर प्रात: 7 बजे विधि विधान से प्रकांड पंडितों के नेतृत्व में भोजशाला में माँ सरस्वती यज्ञ प्रारम्भ होगा, जो 11 जोड़ों द्वारा दिनभर किया जाएगा तथा भोजशाला में आने वाले समस्त हिन्दूजनों द्वारा हवन में आहुति प्रदान की जाएगी। हवन की पूर्णाहुति एवं महाआरती सायं 5.30 बजे होगी। द्वितीय दिवस 17 फरवरी बुधवार को दोपहर 2.30 बजे भोजशाला में विशाल मातृशक्ति सम्मेलन आयोजित है। इस दिन भी मातृशक्ति द्वारा माँ वाग्देवी का पूजन, अर्चन एवं हवन भोजशाला में परम्परा अनुसार सम्पन्न किया जाता है। 18 फरवरी तृतीय दिवस को श्री नित्यानंद आश्रम भक्त मंडल के भक्तों द्वारा श्री श्री 1008 महाप्रभु श्री नित्यानंद बापजी की गुरु आरती का आयोजन रखा गया है। चतुर्थ दिवस 19 फरवरी शुक्रवार को अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। अंतिम दिवस शनिवार 20 फरवरी को प्रात: 10 बजे कन्या पूजन एवं कन्या भोजन का कार्यक्रम आयोजित किया गया है।