विदेश से इंदौर लौटे 26 संक्रमितों में से 9 लोगों में मिला ओमिक्रॉन
   Date27-Dec-2021

se2_1
मध्यप्रदेश में ओमिक्रॉन की दस्तक : विदेश से भोपाल आने वालों में 10 पॉजिटिव
भोपाल/ इंदौर ठ्ठ 26 दिसम्बर (स्वदेश समाचार)
मध्यप्रदेश में ओमिक्रॉन की एंट्री से चिंता बढ़ गई है। विदेश से इंदौर आए एक हजार लोगों की जांच में 2.6 फीसदी पॉजिटिव मिले हैं। इन 26 पॉजिटिव में से 9 में ओमिक्रॉन वैरिएंट की पुष्टि हुई है। इससे पता चलता है कि हर चौथे कोरोना पॉजिटिव में ओमिक्रॉन वैरिएंट है। इनमें दुबई, अमेरिका और तंजानिया से 2-2, ब्रिटेन व घाना से 1-1 लोग आए थे। ये सभी 15 से 20 दिसंबर के बीच विदेश से आए हैं। अभी भी दो हजार लोग ऐसे हैं, जो नवंबर के बाद इंदौर आए हैं, जिनकी जांच नहीं हो पाई है। इनका पता नहीं चल पाया है। इधर, 26 मामलों के आधार पर सिक्वेंसिंग का रेट देखें तो 30 फीसदा से भी ज्यादा पॉजिटिविटी रेट मिला है। यानी विदेश से लौटा हर तीसरा संक्रमित व्यक्ति ओमिक्रॉन संक्रमित पाया गया है। वहीं भोपाल में विदेश से आने वालों में 10 लोग पॉजिटिव मिले हैं। इनकी जीनोम सिक्वेंसिंग सैम्पल की रिपोर्ट नहीं आई है। नवंबर से अब तक भोपाल से 60 सैम्पल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं। रिपोर्ट किसी की नहीं आई है।
ओमिक्रॉन के मिले सभी मरीज युवा हैं। उनकी उम्र 26 से 33 साल के बीच है। मरीजों में सिर्फ एक महिला है। अभी दो मरीज भर्ती हैं। सभी को वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके हैं। अमेरिका से आए युवक को बूस्टर डोज भी लगा है। ओमिक्रॉन की रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन कॉन्टेक्ट हिस्ट्री तलाश रही है।
विदेश से आए लोगों की जानकारी
ठ्ठयूके से इंदौर लौटी 23 वर्षीय युवती (स्टूडेंट) 15 दिसंबर को पॉजिटिव पाई गई थी। उसे वैक्सीन की दोनों डोज लग चुके हैं। उसे शैल्बी हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था। युवती की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है।
ठ्ठयूएस से लौटा 20 वर्षीय स्टूडेंट 18 दिसंबर को पॉजिटिव पाया गया था। उसे सरकारी एमआरटीबी हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था। 22 दिसंबर को रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है।
ठ्ठ30 वर्षीय युवक एक साल से यूएसए में पढ़ाई कर रहा था। यहां वह 20 दिसंबर को पॉजिटिव पाया गया था। उसे डीएनएस हॉस्पिटल में एडमिट किया गया है। अभी फाइनल रिपोर्ट नहीं आई है।
ठ्ठ33 वर्षीय युवक 7 दिन पहले तंजानिया से मुंबई होकर इंदौर आया था। वह 20 दिसंबर को पॉजिटिव पाया गया था। उसे मयूर हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था तथा दो-तीन पहले फिर मुंबई लौट गया।
ठ्ठएक अन्य 26 वर्षीय युवक भी एक हफ्ते पहले तंजानिया से मुंबई होकर इंदौर आया था। वह भी 20 दिसंबर को पॉजिटिव पाया गया था। वह भी तीन दिन पहले मुंबई लौट चुका है।
ठ्ठ33 वर्षीय युवक घाना से मुंबई होकर इंदौर आया था। 17 दिसंबर को पॉजिटिव पाया गया था। उसे दोनों डोज की वैक्सीन लग चुकी है और अभी एमआरटीबी हॉस्पिटल में एडमिट है।
ठ्ठ31 वर्षीय युवक दुबई से इंदौर लौटा था और 20 दिसंबर को पॉजिटिव पाया गया। उसे दोनों डोज लग चुके हैं। यह डीएनएस हॉस्पिटल में एडमिट है।