mp
   Date20-Dec-2021

er4_1  H x W: 0
सर्दी का सितम : दिल्ली से लेकर राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, ओडिशा और बंगाल तक ठंड से कांपे लोग
नई दिल्ली/ भोपाल ठ्ठ 19 दिसम्बर (ब्यूरो)
उत्तर के पहाड़ों में हुई बर्फबारी से सर्दी का सितम जारी है। देश के कई हिस्से ठंड की चपेट में हैं। वहीं चल रही बर्फीली हवाओं से समूचा मध्यप्रदेश कड़ाके की ठंड से जूझ रहा है, जहां एक ओर प्रदेश का उत्तरी भाग शीतलहर की चपेट में हैं, तो वहीं भोपाल सहित पश्चिमी हिस्से के कुछ जिलों में 'तीव्र शीतल दिनÓ रहा, जिसके चलते लोग ठंड से परेशान रहे।
उत्तरप्रदेश की सीमा से सटे रीवा, सतना, खजुराहो, टीकमगढ़ सहित कुछ स्थानों पर शीतलहर चली, तो वहीं उमरिया, छतरपुर के नौगांव, सागर, भोपाल, गुना, ग्वालियर में तीव्र शीतलहर चली, जिसके चलते इन स्थानों पर कंपकंपाती ठंड से आम जनजीवन प्रभावित हुआ। इसी प्रकार सतना, नरसिंहपुर, खजुराहो, बैतूल, दतिया, गुना में शीतल दिन रहा। इस बीच प्रदेश का सबसे कम न्यूनतम तापमान ग्वालियर, उमरिया, नौगांव और पचमढ़ी में रहा, जहां रात्रि का पारा दो डिग्री पर पहुंच गया, वहीं राजधानी भोपाल में भी ठंड के तेवर सख्त दिखे। यहां रात्रि का पारा चार डिग्री पर पहुंच गया, जो सामान्य से सात डिग्री कम रहा। अगले दो दिनों का समूचे प्रदेश में कड़ाके की ठंड का प्रभाव इसी तरह बने रहने का अनुमान है। 22 दिसंबर से पश्चिमी विक्षोभ के आने की संभावना है, जिसके बाद तापमान में हल्की-सी बढ़ोतरी होने से ठंड से राहत की उम्मीद की जा सकती है। राजधानी भोपाल तथा उसके आसपास के क्षेत्रों में पिछले दो दिनों से सर्द हवाएं चलने से कंपकंपाती ठंड से लोग परेशान हैं। कुछ जगहों में लोग ठंड से बचने अलाव का सहारा भी ले रहे हैं। भोपाल में रात्रि का पारा लुढ़ककर चार डिग्री पर पहुंच गया, जो सामान्य से सात डिग्री कम है।