congress
   Date18-Dec-2021

az4_1  H x W: 0
बेलागावी ठ्ठ 17 दिसम्बर (वा)
कर्नाटक में कांग्रेस विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने महिलाओं को लेकर दिए गए अपने बयान पर शुक्रवार को माफी मांगते हुए कहा कि उन्होंने कर्नाटक विधानसभा में अंग्रेजी की एक कहावत का जिक्र किया था और उनका इरादा महिलाओं को अपमानित करने का नहीं था।
उन्होंने कहा, मैं अंग्रेजी की एक लोकप्रिय कहावत का सिर्फ जिक्र कर रहा था। मेरा महिलाओं को अपमानित करने का या विधानसभा में कोई अपमानजनक स्थिति पैदा करने का इरादा नहीं था। हम कोई टिप्पणी करते हैं जिसे संदर्भ से हटकर प्रस्तुत कर दिया जाता है। मैं इस पर अपना कोई बचाव नहीं करना चाहता।
ठ्ठकिसानों पर सदन में हो रही चर्चा के दौरान गुरुवार को विधानसभा अध्यक्ष श्री कागेरी ने कहा था कि यदि सभी को बोलने की अनुमति दी जाए तो सदन की कार्यवाही कैसे चलायी जा सकती है। श्री कुमार ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था, एक कहावत है, जब बलात्कार होना निश्चित हो जाए तो विरोध न करके उसका मजा लेना चाहिए। आपकी एकदम वही स्थिति है। इस पर श्री कागेरी और अन्य सदस्य हंस पड़े थे।
ठ्ठविधानसभा अध्यक्ष ने इसके बाद कहा कि अब इस विवाद को और आगे बढ़ाने की कोई जरूरत नहीं है। किसी विधायक का महिलाओं का अपमान करने या सदन की गरिमा को ठेस पहुंचाने का इरादा नहीं है। श्री कुमार का इस तरह का विवाद पैदा करने का यह पहला वाकया नहीं है, उन्होंने 2019 में अपनी तुलना 'बलात्कार पीडि़तÓ से कर दी थी।