bhopal
   Date18-Dec-2021

az5_1  H x W: 0
भोपाल ठ्ठ 17 दिसम्बर (ब्यूरो)
उत्तर भारत में बर्फबारी ने मध्यप्रदेश में ठंड बढ़ा दी है। अगले 24 घंटे में इसका असर नजर आने लगेगा। शनिवार से ठंड बढ़ सकती है। दो दिन बाद रात का पारा 8 डिग्री सेल्सियस तक आ सकता है। दिन के तापमान में भी गिरावट आएगी। ऐसे में लोगों को दिन और रात में ठंड का एहसास होने लगेगा।
मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ का असर खत्म हो जाएगा। इस वजह से अब तापमान में गिरावट आएगी। अगले दो दिन में मौसम का मिजाज बदलेगा और ठंड बढ़ जाएगी। क्रिसमस पर इस बार कड़ाके की ठंड रह सकती है, लेकिन नए साल यानी जनवरी के पहले सप्ताह में दिन और रात के पारे चढ़ेंगे।
ग्वालियर सबसे ठंडा
प्रदेश के चार प्रमुख शहरों भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर में से न्यूनतम तापमान ग्वालियर में सबसे कम 10.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। भोपाल, इंदौर और जबलपुर में रात का पारा 14 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहा। प्रदेश में रात का पारा सबसे ज्यादा होशंगाबाद में 15.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। भोपाल में सुबह के समय कोहरा भी रहा।
24 के बाद ही पश्चिमी विक्षोभ आने की संभावना
दक्षिण भारत में एक चक्रवाती घेरा बना है। यह हिंद महासागर के आसपास है। इसके कारण अगले पांच-छह दिन भूमध्य सागर की तरफ कोई हलचल नहीं रहेगी। 24 के बाद ही पश्चिमी विक्षोभ आने की संभावना है। दिसंबर में बारिश की संभावना नहीं है। जनवरी के पहले सप्ताह में हल्की ठंड रहेगी।