amit shah
   Date18-Dec-2021

az2_1  H x W: 0
नई दिल्ली ठ्ठ 17 दिसम्बर (वा)
केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि पिछले सात वर्षों में सरकार, लोकतंत्र, बहुपक्षीय लोकतांत्रिक प्रणाली और संसदीय लोकतांत्रिक प्रणाली पर लोगों का खोया भरोसा बढ़ाना मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है।श्री शाह ने शुक्रवार को यहां भारतीय उद्योग एवं वाणिज्य महासंघ (फिक्की) की 94वीं वार्षिक आमसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 2014 से पहले तीन दशकों तक देश में पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं थी और उनके द्वारा निर्णय नहीं लिए जाने से यह लग रहा था कि सरकार में नीतिगत पंगुता आ गई है। उन्होंने कहा कि 30 सालों तक देश ने पूर्ण बहुमत की और निर्णायक सरकार नहीं देखी थी और सब मानते थे कि सरकार को पॉलिसी पैरालिसिस हो गया था।
नवेशकों का भरोसा उठ गया था, क्रोनी कैपिटलिज़्म चरम पर था, महंगाई आसमान छू रही थी, ईज़ ऑफ़ डूइंग बिजऩेस में हम दूर-दूर तक कहीं नहीं थे, बैंकिंग व्यवस्था चरमराई हुई थी और इसके साथ 12 लाख करोड़ के घपले, घोटाले और भ्रष्टाचार से पूरी व्यवस्था चरमरा गई थी और देश की जनता का सरकार पर से भरोसा उठ चुका था। उन्होंने कहा कि सरकार का संवैधानिक कार्यकाल पांच साल का होता है, लेकिन जब सरकार लोगों का भरोसा खो देती है, तब सरकार की आत्मा नहीं रहती है और जिस सरकार की आत्मा नहीं होती है, वो सरकार फ़ैसले नहीं ले सकती है और परिवर्तन नहीं कर सकती है।