ali
   Date12-Dec-2021

sx1_1  H x W: 0
नई दिल्ली ठ्ठ 11 दिसम्बर (वा)
देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत का बुधवार को हेलिकॉप्टर क्रैश में निधन हो गया। पूरा देश उनके निधन पर शोक मना रहा था, तो दूसरी तरफ कुछ लोग सोशल मीडिया पर इसका मजाक उड़ा रहे थे। कट्टरपंथियों की इन हरकतों से दु:खी होकर मलयाली फिल्मों के डायरेक्टर अली अकबर और उनकी पत्नी लुसीअम्मा ने इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने का फैसला किया है। यह इस्लाम को हिंसा का पर्याय को ढाल बनाने वाले कट्टकपंथियों को वसीम रिजवी के बाद अली अकबर का तमाचा है।
फिल्म निर्माता अली अकबर ने फेसबुक पर लाइव पर अपने और पत्नी के इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने का ऐलान किया। उन्होंने अपना नाम बदलकर रामसिम्हन रखने का ऐलान भी किया। उन्होंने कहा कि मुस्लिमों की तरफ से ऐसी हरकत का विरोध सीनियर मुस्लिम नेताओं और इस्लामिक धर्मगुरुओं ने भी नहीं किया। देश के बहादुर बेटे का ऐसा अपमान स्वीकार्य नहीं है। अकबर ने यह भी कहा कि उनका इस्लाम से विश्वास उठ गया है।
ठ्ठ फिल्म निर्माता ने आगे कहा कि, कि आज में जन्म से मिला हुआ एक पोशाक उतार रहा हूं और मैं अब मुस्लिम नहीं हूं। मैं भारत का हूं। ये मेरा उन लोगों के लिए जवाब है, जो भारत के खिलाफ मुस्कुराते हुए स्माइली पोस्ट कर रहे है।
ठ्ठअली अकबर का मानना है कि, वो और उनकी पत्नी अपने आधिकारिक रिकॉर्ड में धार्मिक विवरण बदलने की प्रक्रिया करेंगे। लेकिन अपनी दोनों बेटियों को इसके लिए बिल्कुल मजबूर नहीं करेंगे। बता दें कि, अली अकबर भारतीय जनता पार्टी की राज्य समिति के सदस्य थे। लेकिन, कुछ असहमितयों के कारण उन्होंने पार्टी नेतृत्व से अक्टूबर में पद छोड़ दिया था।