school
   Date18-Nov-2021

ws1_1  H x W: 0
भोपाल ठ्ठ 17 नवम्बर (ब्यूरो)
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने आज एक महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए कोविड से जुड़े प्रतिबंध समाप्त करने के निर्देश दिए। श्री चौहान ने यहां कोरोना की स्थिति की समीक्षा संबंधी महत्वपूर्ण बैठक में यह निर्देश दिए। अब समस्त सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजन पूर्ण क्षमता के साथ हो सकेंगे। समस्त चल समरोह निकल सकेंगे।
विवाह एवं अंतिम संस्कार पूर्ण क्षमता पर हो सकेंगे। नाईट कफ्र्यू नहीं लगेगा। सिनेमा हॉल, मॉल, स्विमिंग पूल, जिम, योगा सेंटर, रेस्टोरेंट, क्लब आदि 100 फीसदी क्षमता पर खुल सकेंगे। स्कूल, कॉलेज, होस्टल, कोचिंग क्लासेज़, पूर्ण क्षमता पर संचालित होंगे। इसी प्रकार मेलों में दुकानदार सभी मेले में दुकान लगा सकेंगे, जिनको वैक्सीन की दोनों डोज़ लगी हों। होस्टल में 18 वर्ष के ऊपर के छात्र-छात्राओं तथा समस्त स्टाफ को दोनों डोज लगाना आवश्यक है। सिनेमा हॉल में स्टाफ को दोनों डोज तथा दर्शकों को कम से कम एक डोज लगी हो। कोविड 19 उपयुक्त व्यवहार जैसे मास्क, दो गज की दूरी का पालन सभी करें। प्रदेश शासन ने लोगों से अपील है कि जब भी शासकीय टीम कोविड टेस्ट के लिए आएं तो टेस्ट करवाएं। समस्त शासकीय सेवकों को दोनों डोज लगाना अनिवार्य होगा। मध्यप्रदेश में कोरोना संबंधी प्रतिबंध पहली तालाबंदी मार्च 2020 के तीसरे सप्ताह में लगाने के साथ ही लागू किए गए थे। हालांकि दूसरी लहर की भयावहता कम होने के बाद प्रतिबंधों में क्रमिक तौरड्ड पर राहत प्रदान की गई है।
7287 गांवों में...
जिससे उनका सामाजिक आर्थिक विकास बहुत तेजी से हो सकेगा। इस योजना में जिन पांच राज्यों के आकांक्षी जिलों को फायदा होगा उनमें आंध्र प्रदेश के तीन जिलों के 1218 गांव, छत्तीसगढ़ के आठ जिलों के 699 गांव, झारखंड के 19 जिलों के 827 गांव, महाराष्ट्र के चार जिलों के 610 गांव और ओडिशा के 10 जिलों के 3933 गांव शामिल हैं। श्री ठाकुर ने कहा कि इसी प्रकार से सड़कों के बनने से कनेक्टिविटी की पुरानी कमी दूर हो जाएगी। आदिवासी बहुल इलाकों में ग्रामीण कृषि बाजारों, उच्चतर माध्यमिक स्कूलों और अस्पतालों के जुडऩे आदिवासी समुदायों के जीवनस्तर में सुधार आएगा।