kartarpur
   Date18-Nov-2021

ws3_1  H x W: 0
चंडीगढ़ ठ्ठ 17 नवम्बर (वा)
गुरुनानक देव जयंती की 19 नवम्बर को जयंती से ऐन पहले पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब के दर्शनार्थ आज से कॉरिडोर खोले जाने के साथ ही वहां जाने वाले भारतीय विशेष कर सिख श्रद्धालुओं के लिए पूर्वाह्न 11 बजे से पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो गई है।
करतारपुर साहिब केवल उन्हीं श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति होगी जिन्हें कोविड टीकाकरण की दोनों डोज लगी होंगी अथवा गत 72 घंटे की कोविड19 आटीपीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव रिपोर्ट है। श्रद्धालुओं को पाने का पानी तथा सात किलो वजन तक का जरूरी सामान ले जाने की अनुमति होगी। इन वस्तुओं में नाकारात्मक सूची में रखी वस्तुएं वे सुरक्षा कारणों से नहीं ले जा सकेंगे। करतारपुर साहिब के लिए 18 नवम्बर को मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, उनके मंत्रिमंडल सहयोगियों तथा श्रद्धालुओं समेत 250 लोगों का पहला जत्था रवाना होगा। वहीं शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी(एसजीपीसी) अध्यक्ष बीबी जागीर कौर के नेतृत्व में श्रद्धालुओं का विशाल जत्था 19 नवम्बर को करताारपुर साहिब के लिए रवाना होगा।
वहीं एसजीपीसी की ओर से करतारपुर साहिब में आज से अखंड पाठ शुरू हो गया है जिसका गुरुनानक देव की 19 नवम्बर को जयंती पर समापन होगा।
श्री करतारपुर साहिब के लिए गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीकरण
नई दिल्ली 17 नवम्बर (वा) पाकिस्तान में स्थित पवित्र गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब की यात्रा पर जाने के लिए केन्द्रीय गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर बुधवार से ऑनलाइन पंजीकरण शुरू हो गया है। सरकार ने गुरुनानक देव जी के 552 वें प्रकाश उत्सव के पहले मंगलवार को एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए गुरुद्वारा करतारपुर साहिब जाने के लिए बनाए गए गलियारे को बुधवार से खोलने का निर्णय लिया था। श्री करतारपुर साहिब गलियारे से तीर्थयात्रा की सुविधा मौजूदा प्रक्रियाओं और कोविड प्रोटोकॉल के अनुसार दी जाएगी। यात्रा के लिए श्रद्धालुओं को गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर जाकर पंजीकरण करना होगा और इससे संबंधित सभी औपचारिकताओं को पूरा करना होगा। पंजीकरण की पुष्टि के लिए तीर्थयात्रियों के पास एक मैसेज आएगा। कोविड महामारी के चलते यह गलियार 16 मार्च 2020 को बंद कर दिया गया था।