purandare
   Date16-Nov-2021

rt4_1  H x W: 0
औरंगाबाद द्य जाने-माने इतिहासकार और पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित बाबासाहेब पुरंदरे को सोमवार को यहां एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह 99 वर्ष थे।
पुणे के दीनानाथ अस्पताल एवं अनुसंधान केन्द्र के चिकित्सक ने बताया श्री पुरंदरे ने आज सुबह पांच बजे अंतिम सांस ली। चिकित्सक ने बताया कि श्री पुरंदरे एक सप्ताह पहले निमोनिया से पीडि़त थे। उन्हें यहां अस्पताल में भर्ती कराया गया। वह अस्पताल के गहन चिकित्सा इकाई के वेंटिलेर पर थे। उनकी रविवार को अचानक से तबियत ज्याद खराब हो गयी और आज सुबह पांच बजे उनकी मृत्यु हो गयी। श्री पुरंदरे की अधिकतर कृतियां मराठा योद्धा छत्रपति शिवाजी महाराज के जीवन से संबंधित हैं। उन्हें 2019 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। शिवसाहिर बाबासाहेब पुरंदरे का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया गया। वैकुंठ श्मशान घाट पर आज उनके अंतिम संस्कार में महाराष्ट्र के कोने कोने से बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। केंद्रीय पर्यटन मंत्री श्रीपद नाइक, मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने बाबासाहेब पुरंदरे को श्रद्धांजलि अर्पित की।