तालाबंदी के दौरान लिख डाली रामायण
   Date11-Jan-2021

ed4_1  H x W: 0
जालौर ठ्ठ 10 जनवरी (वा)
कोरोना तालाबंदी के दौरान जहां लोगों को खासी परेशानी हुई तो कुछ लोगों ने कोरोना तालाबंदी को यादगार बनाने के लिए कई तरह के अलग-अलग काम किए। बहुत से लोगों ने इस आपदा को अवसर के रूप में भी परिवर्तित किया है। कुछ ऐसा ही किया है राजस्थान के जालौर जिले में रहने वाले दो छोटे बच्चों ने। जी हां, दो भाई-बहनों ने तालाबंदी में पूरी रामायण को अपने पेन से कॉपी में लिखा है। रामायण के अलग-अलग खंडों को उन्होंने 20 कॉपियों के करीब 2100 पन्नों में लिखा है। ये बच्चे हैं तीसरी कक्षा में पढऩे वाले माधव जोशी और चौथी कक्षा में पढऩे वाली उनकी बहन अर्चना। ज्ञात हो कि तालाबंदी के दौरान जब दूरदर्शन पर प्रसारित रामायण को लोग खूब देख रहे थे और पसंद की जा रही थी, उसी दौरान इन बच्चों के मन में पूरी रामायण पेन से लिखने की बात आई और उसके बाद उन्होंने पूरे मन से रामायण को कॉपी में उतार दी। इन दोनों बच्चों ने सात हिस्सों में इसे पूरा किया है। बता दें कि श्रीरामचरितमानस बाल कांड, अयोध्या कांड, अरण्य कांड, किष्किंधा कांड, सुंदर कांड, लंका कांड और उत्तर रामायण के सात कांड शामिल हैं। माधव और अर्चना ने अपनी कॉपियों में सातों कांड को पेन-पेंसिल से लिखा है। इसमें से माधव ने 14 कॉपियों में बाल कांड, अयोध्या कांड, अरण्य कांड और उत्तर कांड लिखा है।